नई दिल्ली - आइपीएल की टीम चेन्नई सुपर किंग्स को एक के बाद एक दो बड़े झटके लगे हैं। इन दो झटके के बाद टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी की चिंता बढ़ गई है। पहला तो चेन्नई में हो रहे विरोध प्रदर्शन के चलते इस टीम के मैचों को पुणे शिफ्ट कर दिया गया है। इसके साथ ही साथ इस टीम के सबसे भरोसेमंद खिलाड़ियों में से एक सुरेश रैना चोट के चलते अगले दो मैचों से बाहर हो गए हैं।
रैना हुए दो मैच के लिए बाहर
सुरेश रैना को केकेआर के खिलाफ खेले गए मैच में पिंडली में चोट लगी थी, जिसकी वजह से उन्हें दौड़ने में भी परशानी हो रही थी। खबरों की मुताबिक रैना को इस चोट से रिकवर होने में दस दिन का वक्त लग सकता है। इसका मतलब साफ है कि अब रैना पंजाब और राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ होने वाले मैच नहीं खेल पाएंगे।
सुरेश रैना का टीम से बाहर होना सीएसके के लिए बड़ा झटका है। रैना एक दमदार बल्लेबाज़ के साथ-साथ एक बेहतरीन फील्डर भी हैं। उन्होंने अपनी बेहतरीन फील्डिंग का नज़ारा केकेआर के खिलाफ खेले गए मैच में रॉबिन उथप्पा को शानदार तरीके से रन आउट कर दिखाया था।
दो मैच में लगे दो झटके
आपको बता दें कि इस सीजन में चेन्नई की टीम ने अभी तक दो मैच खेले हैं और दोनों ही मैच जीतने के बाद धौनी की इस टीम को नुकसान भी उठाना पड़ा है। मुंबई के खिलाफ मिली जीत के बाद केदार जाधव चोटिल होकर पूरे सीजन से ही बाहर हो गए और अब कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मिली जीत के बाद सुरेश रैना की चोट ने चेन्नई की मुश्किलों को बढ़ा दिया है। इससे पहले चेन्नई के ओपनर मुरली विजय पहले से ही चोट से उभरने की कोशिश कर रहे हैं।
धौनी के सामने आई ये चुनौती
अगले दोनों मैच में धौनी के लिए टीम का चयन बड़ा सिरदर्द बन सकता है। क्योंकि इस टीम के काफी खिलाड़ी चोटिल हैं। फॉफ डू प्लेसिस की अंगुली की चोट से उबर रहे हैं और हो सकता है कि वो रविवार को होने वाले मैच में मैदान पर वापसी करें। इसके अलावा अगर अनकैप्ड खिलाड़ियों की बात करें तो चेन्नई के पास ध्रुव शौरी, क्षितिज शर्मा और तामिलनाडु से खेलने वाले एन जगदीशन रैना के विकल्प के तौर पर मौजूद रहेंगे। लेकिन अंतिम 11 चुनने के लिए धौनी के सामने काफी चुनौतियां तो होंगी ही।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें