नई दिल्ली। आइपीएल में मंगलवार को कोलकाता नाइटराइडर्स ने राजस्थान रॉयल्स को 6 विकेट से मात देकर अपनी प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदों को और ज़्यादा मजबूत कर लिया। इस हार के बाद राजस्थान के अंतिम 4 में पहुंचने की उम्मीदें ना के बराबर ही रह गई हैं। इस हार के साथ ही इस टीम को एक और बड़ा झटका लगा है और इसकी वजह है पाकिस्तान। दरअसल इस टीम के सबसे बड़े मैच विनर खिलाड़ी जोस बटलर और बेन स्टोक्स इस मुकाबले के बाद इंग्लैंड वापस लौट गए हैं। ये दोनों खिलाड़ी पाकिस्तान के खिलाफ लॉर्डस में 24 मई से शुरू होने वाले पहले टेस्ट के लिए इंग्लैंड की टीम में शामिल हैं।राजस्थान की टीम को मौजूदा आइपीएल में एक मुकाबला और खेलना है और ये मैच रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ जयपुर में खेला जाएगा। इस मैच में दोनों ही टीमों के लिए अंतिम चार में पहुंचने की उम्मीदों को ज़िंदा रखने के लिए जीत बेहद जरुरी है। ऐसे में रहाणे एंड कंपनी के लिए इन दो दिग्गजों का स्वदेश लौटना एक बड़ा झटका है।बेन स्टोक्स इस आइपीएल में सबसे महंगे खिलाड़ी के तमगे के साथ मैदान पर उतरे थे, लेकिन उनके प्रदर्शन ने इस बार राजस्थान की टीम को निराश ही किया। वहीं दूसरी ओर जब से जोस बटलर ने ओपनिंग की जिम्मेदारी संभाली थी उन्होंने लगातार पांच पारियों में अर्धशतक जमाकर न सिर्फ वीरेंद्र सहवाग के रिकॉर्ड की बराकरी की बल्कि अपनी टीम को भी प्लेऑफ में उम्मीदों को बल देते रहे।इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने स्टोक्स और बटलर को आइपीएल छोड़कर वापस आने को कहा है। इस टीम में समरसेट के ऑफ स्पिनर डोम बेस नया चेहरा हैं, जबकि ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में खराब प्रदर्शन करने वाले जेम्स विंस को बाहर कर दिया है। विंस ने सोमवार को ही समरसेट के खिलाफ नाबाद 201 रन की पारी खेली है।स्टोक्स और बटलर से पहले चेन्नई सुपर किंग्स के तेज़ गेंदबाज़ मार्क वुड भी इंग्लैंड वापस लौट चुके हैं। बटलर इंग्लैंड के एक शानदार बल्लेबाज हैं। 27 वर्षीय बटलर का 18 टेस्ट मैच का करियर खराब रहा है। उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट दिसंबर 2016 में भारत के खिलाफ खेला था। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करने वाले बटलर को एक बल्लेबाज के तौर पर पाकिस्तान के खिलाफ दो टेस्ट मैच के लिए टीम में शामिल किया गया है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें