Editor

Editor

टीवी का स्टार कपल दिव्यांका त्रिपाठी और उनके पति विवेक दहिया नच बलिये 8 के विनर बन गए हैं। दोनों ने शो के फाइनल में सनम-अभिगेल की जोड़ी को हरते हुए जीता अपने नाम कर ली है। दिव्यांका और विवेक को शो में सबसे ज्यादा वोट मिले हैं। पिछले काफी दिनों से यह कपल लगातार शो में मजबूती से बना हुआ है। इस जीत के साथ दिव्यांका और विवेक बहुत जल्द अपनी शादी की पहली सालगिरह भी मनाने वाले हैं। जोकि अब उनको डबल ख़ुशी देने वाली हैं।जीत की ट्रॉफी लेते हुए दिव्यांका और विवेक काफी खुश दिख रही थी। दिव्यांका-विवेक को जीत की ट्रोफी के अलावा विजेताओं को 35 लाख रुपये की राशि, एक हीरो माएस्ट्रो स्कूटर और ओरा जूलरी भेट दी गई। वैसे यह पहला मौका था की दिव्यांका के फैन्स ने उनको किसी डांस के मंच पर डांस करते देखा होगा। नच के मंच पर दिव्यांका और विवेक को जोड़ी को बहुत पसंद किया गया। उनकी डांस कैमिस्ट्री देखने लायक थी। पहले कुछ एपिसोड में धीमी शुरुआत करने वाले इस कपल ने एपिसोड दर एपिसोड अपनी परफॉर्मेंस में सुधार किया और जीत अपने नाम कर ली।नच बलिए 8 के फिनाले से पहले ही सोशल मीडिया पर दिव्यांका और उनके पति विवेक की एक फोटो वायरल हुई जिसमें वो नच बलिए 8 जीत की ट्रॉफी लेते नजर आए। जिसके बाद सोशल मीडिया पर उनको बधाई देने का सिलसिला शुरु हो गया। दिव्यांका की फैन फोल्लोविंग उनको इस वक्त काम आयी। उनके स्टारडम ने उनको जीत के और करीब ले जाते हुए जीत दिलवाई है। इस साल के अप्रैल से नच बलिए सीजन-8 की शुरुआत हुई थी। इस डांस शो में कुल 10 सिलेब्रिटी कपल्स ने हिस्सा लिया था।

मौनी रॉय ने चर्चित टीवी शो नागिन के दूसरे सीजन की शूटिंग पूरी कर ली है और अब वह काम से थोड़ा ब्रेक लेकर अमेरिका के शिकागो शहर पहुंची हैं।कलर्स टीवी पर प्रसारित होने वाले धारावाहिक नागिन2 की लीड एक्ट्रेस मौनी रॉय ने अपने शिकागो वेकेशन की कुछ नई तस्वीरें इंस्टाग्राम पर अपलोड की हैं। इन तस्वीरों में वह शिकागो की अलग-अलग खूबसूरत लोकेशंस पर नजर आ रही हैं। ऐसी ही एक नई तस्वीर में मौनी यूएस की किसी बीच पर मटरगस्ती करती नजर आ रही हैं। इस तस्वीर में मौनी रॉय सुंदर तो दिख ही रही हैं लेकिन कहना न होगा कि उनके जलवे किसी बॉलीवुड हीरोइन से कम नहीं हैं। और हो भी क्यों आखिर मौनी भी अब बॉलीवुड में बाकायदा लीड एक्ट्रेस के तौर पर अक्षय कुमार जैसे सुपर-स्टार के साथ बॉलीवुड डेब्यू करने जा रही हैं।बता दें कि मौनी रॉय ने चर्चित टीवी शो नागिन के दूसरे सीजन की शूटिंग पूरी कर ली है और अब वह काम से थोड़ा ब्रेक लेकर अमेरिका के शिकागो शहर पहुंची हैं। नागिन 2 में शिवांगी नाम की इच्छाधारी नागिन का किरदार निभाने वाली मौनी रॉय शिकागो में अपने दोस्तों के साथ इन दिनों जमकर मस्ती कर रही हैं। इस बीच अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर अपलोड करना वह नहीं भूलती हैं। इन तस्वीरों को उनके फैंस खूब लाइक करते हैं और कई सारे पॉजिटिव कमेंट्स भी करते हैं।उल्लेखनीय है कि मौनी रॉय की डेब्यू फिल्म को जानी-मानी डायरेक्टर रीमा काग्ती डायरेक्ट करेंगी। फिल्म की कहानी हॉकी पर आधारित होगी। देश की आजादी के बाद पहली बार जब भारत ने हॉकी में ओलम्पिक मेडल जीता था। उसी घटना को फिल्म में दिखाया जाएगा। बताया जा रहा है कि फिल्म की शूटिंग इस साल के अंत तक पूरी कर ली जाएगी और फिल्म को अगले साल 15 अगस्त के मौके पर रिलीज किया जाएगा।कुछ दिनों पहले एक सूत्र ने फिल्म के संदर्भ में बताया था, “फिल्म में मौनी रॉय एकदम अलग अवतार में नजर आएंगी। फिल्म की शूटिंग अगस्त महीने में 20 से 25 दिनों तक चलेगी। फिल्म मेल एक्टर डोमिनेटेड होगी लेकिन कुछ फीमेल एक्ट्रेस के रोल होंगे।” सूत्र ने यह भी बताया था कि फिल्म की स्क्रिप्ट राजेश देवराज ने लिखी है। स्क्रिप्ट हॉकी पर आधारित है जिसमें कुछ फिक्शन भी जोड़ा गया है।

नई दिल्ली:बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा अभिनेत्री आलिया भट्ट मॉनसून के इस खूबसूरत मौसम में शास्त्रीय नृत्य का आनंद ले रही हैं। सोशल मीडिया के जरिए वह फैंस के साथ जुड़ी हैं। उन्होंने इंस्टाग्राम पर अपनी एक तस्वीर पोस्ट की, जिसमें वह शास्त्रीय नृत्य करते हुए नजर आ रही हैं।वह पारंपरिक पोशाक में हैं और डांस मूव्स पर ध्यान केंद्रित किए हुए हैं।बता दें कि आलिया जल्द ही एक्टर विक्की कौशल के साथ 'राजी' में नजर आएंगी। यह फिल्म एक कश्मीरी लड़की की कहानी पर आधारित है, जिसकी शादी पाकिस्तानी सैन्य अधिकारी से होती है।इसके अलावा आलिया भट्ट के खाते में एक और फिल्म है। वह रणबीर कपूर के साथ 'ड्रैगन' मूवी में भी नजर आएंगी। हालांकि, इस फिल्म के बारे में अभी ज्यादा जानकारी नहीं मिली है। आलिया का नाम 'गुल्ली बॉय' फिल्म से भी जोड़ा जा रहा है।

इन दिनों सोशल मीडिया एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इस विडियो में एक नौजवान हाथ में एक पोस्टर पकड़कर खड़ा है। जो भी उस पोस्टर को पढ़ रहा है वह उसके पास जाकर उससे मिल रहा है। यह वीडियो इंडिया गेट के पास फिल्माया गया है।बीते सप्ताह उग्र भीड़ द्वारा नाबालिग मुस्लिम शख्स और व्यापारी की हत्या कर दी थी। जिसके बाद से देश में बढ़ती धार्मिक असहिष्णुता पर सवाल उठाए जाने लगे है। इस बीच आया यह वीडियो लोगों के सोचने पर मजबूर कर रहा है।वीडियो में एक नौजवान पवित्र महीने रमजान के दौरान आंखों पर पट्टी बांधे राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के इंडिया गेट पर खड़ा है। शख्स के हाथ में बोर्ड भी है। जिसपर लिखा है, ‘मैं एक मुसलमान हूं। आज मेरा रोजा है। मैं चाहता हूं कि मेरा रोजा हिंदू भाईयों के साथ खुले। जय हिंद।’यह वीडियो फेसबुक पर बीते 21 जून को अफलातून नाम के पेज पर अपलोड किया था। जिसे अबतक 14 लाख से ज्यादा लोग देख चुके हैं। और लगभग 40 हजार लोग शेयर कर चुके हैं। वीडियो में महिलाएं भी मुस्लिम युवक को गले लगाकर आपसी भाईचारे का संदेश देते हुए देखी जा सकती हैं। इसके बाद नौजवान युवक एक हिंदू शख्स के साथ रोजा खोलता है।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के पूर्व प्रमुख अनुराग ठाकुर ने अनिल कुंबले के भारतीय क्रिकेट टीम के कोच के पद से इस्तीफा देने के बाद से मीडिया के निशाने पर और सोशल मीडिया में लोगों के गुस्से का सामना कर रहे कप्तान विराट कोहली का बचाव करते हुए कहा कि उन्हें बेवजह निशाना बनाया जा रहा है और क्रिकेट टीम का आने वाला समय कोहली के हाथों में सुरक्षित है।गौरतलब है कि हाल में कुंबले ने कोच पद से इस्तीफा देने के बाद ट्विटर पर एक बयान जारी किया था जिसमें उन्होंने लिखा था कि कप्तान को मेरे तरीकों पर ऐतराज था और उन्हें मेरे कोच बने रहने पर आपत्ति थी बीसीसीआई ने मुझे इस बारे में बताया जिस पर मुझे आश्चर्य हुआ क्योंकि मैंने हमेशा कप्तान और कोच के बीच की सीमाओं का सम्मान किया है।हिमाचल प्रदेश ओलंपिक संघ के अध्यक्ष ठाकुर ने मीडिया को यहां दिए एक विशेष साक्षात्कार में कहा कि विराट को बेवजह निशाना बनाया जा रहा है। मुझे लगता है कि इस चर्चा को बंद कर देना चाहिए। हिन्दुस्तान के क्रिकेट को अगर अगले 10 साल में बुलंदियों पर लेकर जाना है तो कोहली में ऐसा करने की काबिलियत है। ये पहला ऐसा उदाहरण नहीं है, जब ऐसा हुआ है। पहले भी कप्तानों, पूर्व कप्तानों को निशाना बनाया जाता रहा है।

देश के अगले राष्ट्रपति के लिए होने वाले चुनाव से पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने रविवार को एक पुराना वीडियो और एक पुरानी खबर साझा कर विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार पर निशाना साधने की कोशिश की।सुषमा ने ट्वीट पर यह सामग्री साझा करते हुए लिखा है, “लोकसभा अध्यक्ष रहते हुए मीरा कुमार विपक्षी नेताओं के साथ इस तरह का व्यवहार करती थीं।”यह वीडियो 2013 की लोकसभा कार्यवाही का है।छह मिनट के इस वीडियो में सुषमा कई घोटालों का जिक्र करते हुए कांग्रेस के नेतृत्व वाली तत्कालीन संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार पर भड़की नजर आ रही हैं।वीडियो में चार मिनट के बाद तत्कालीन लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार सुषमा को अपनी बात समाप्त करने का इशारा करते हुए कह रही हैं, “ठीक है...धन्यवाद...ओके...मुझे आगे की कार्यवाही बढ़ानी है...।”विदेश मंत्री सुषमा ने इसके अलावा समाचार पत्र 'पायनियर' में तीन मई, 2013 को प्रकाशित एक खबर का लिंक भी साझा किया है, जिसमें कहा गया है कि लोकसभा अध्यक्ष ने सुषमा स्वराज को उनके 120 सेकेंड के भाषण के दौरान 60 बार रोका-टोका।वीडियो के आखिर में सुषमा के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी के सदस्य सदन का बहिर्गमन कर जाते हुए दिख रहे हैं।

जम्मू कश्मीर के गुलमर्ग में रोप वे का केबल टूटने से हादसा हो गया जिसमें दिल्ली के एक परिवार सहित 7 लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि मरने वालों में चार लोग एक ही परिवार के थे। इस हादसे के कारण कई और पर्यटक फंसे हुए हैं। बारामुला के एसएसपी इम्तियाज हुसैन ने बताया कि पति-पत्नी और उनके दो बच्चों की इस हादसे में मौत हो गई है। परिवार राजधानी दिल्ली का है। इस हादसे में एक स्थानीय गाइड की भी मौत हो गई है।एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि गुलमर्ग गोंदोला रोपवे पर एक पेड़ गिर जाने से केबल कार नीचे गिर गई। उन्होंने बताया कि तेज हवाओं के कारण पेड़ जड़ से उखड़ गया था। हादसे के शिकार सात लोगों में से चार शालीमार बाग, दिल्ली के एक ही परिवार से हैं। उनकी पहचान जयंत अंद्रास्कर, उनकी पत्नी मनशिया अंद्रास्कर और उनकी दो बेटियों अनग्हा तथा जाह्नवी के रूप में हुई है। अधिकारी ने बताया कि मुख्तार अहमद नाम के व्यक्ति की भी मौत हो गई।कश्मीर में बड़े पैमान पर पर्यटन का कारोबार होता है। इससे कश्मीर को करीब 60 फीसदी की आमदनी होती है।

राष्ट्रपति पद के लिए राजग उम्मीदवार रामनाथ कोविन्द 62 प्रतिशत से अधिक मतों के साथ आसानी से जीत हासिल कर सकते हैं, लेकिन उनकी जीत का आंकड़ा मौजूदा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को 2012 में मिले 69 प्रतिशत से थोड़ा कम रह सकता है।राष्ट्रपति पद के लिए पहली बार दलित बनाम दलित उम्मीदवार के बीच मुकाबला है और आंकड़े भगवा ब्रिगेड के पक्ष में हैं जिसे लगभग सात लाख वोट मिल सकते हैं। यह आंकड़ा निर्वाचक मंडल के कुल 1098903 मतों का लगभग दो तिहाई है। विपक्ष की संयुक्त उम्मीदवार मीरा कुमार को राजद, पारंपरिक प्रतिद्वंद्वी रहीं सपा-बसपा और तृणमूल कांग्रेस-माकपा जैसे कई क्षेत्रीय दलों के समर्थन के बावजूद लगभग चार लाख मत मिलने की संभावना है।जदयू, बीजद, अन्नाद्रमुक, टीआरएस और वाईएसआर कांग्रेस जैसे कुछ बड़े गैर राजग दलों द्वारा समर्थन किए जाने के बाद कोविन्द की असान जीत के अवसर बढ़ गए हैं। विपक्ष इसे अब विचारधारा की लड़ाई कह रहा है। भाजपा उम्मीदवार को कुछ गैर राजनीतिक दलों का समर्थन मिलने के बाद कोविन्द को अपने खाते में 682677 मत मिलने की उम्मीद है।दूसरी ओर, मीरा कुमार के पास 376261 समर्पित मत हैं जो 34 प्रतिशत तथा कुल कॉलेजियम मत का एक तिहाई है। कुछ निर्दलियों और आम आदमी पार्टी, इनेलो तथा एआईएमआईएम जैसे दलों, जिन्होंने समर्थन के मुद्दे पर अभी अपने पत्ते नहीं खोले हैं, के लगभग 39965 मत हैं। यह ब्लॉक किस तरफ जाएगा, यह मुख्यत: सत्तारूढ़ पार्टी और विपक्ष के उम्मीदवारों के रणनीति अभियान पर निर्भर करेगा।राष्ट्रपति चुनाव कॉलेजियम में कुल 776 सांसदों में से कोविन्द के पास 524 सांसदों का समर्थन है। इनमें से 337 सांसद भाजपा के हैं। वहीं, विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार के पास 235 सांसदों का समर्थन है। एक सांसद के मत का मूल्य 708 मतों के बराबर होता है। तदनुसार, राजग उम्मीदवार को सांसदों के मतों के रूप में 370992 मत मिलेंगे। उन्हें मिलने वाले शेष 311685 मत विधायकों से मिलेंगे। मीरा कुमार को सांसदों के मतों के रूप में 166380 मत मिलेंगे। उन्हें शेष 209881 समर्पित मत राज्यों के विधयकों से मिलेंगे।

मुंबई में लगातार तीसरे दिन आज भारी बारिश होने से जनजीवन पर असर पड़ा है और लोकल ट्रेन सेवायें भी प्रभावित हुई हैं। इस बीच मौसम विभाग ने मुंबई, कोंकण और गोवा क्षेत्र में अगले दो दिनों में भारी बारिश होने के आसार जताये हैं।मौसम विभाग ने भारी बारिश होने के अनुमान के मद्देनजर मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की चेतावनी जारी की है।मुंबई में भारी बारिश की वजह से लोकल ट्रेन के आवागमन पर असर पड़ा है और ये गाड़ियां समय सारिणी से 15 मिनट की देरी से चल रही हैं हालांकि अभी तक किसी ट्रेन को रद्द करने की सूचना नहीं है।मुंबई में भारी बारिश की वजह से विमानन सेवा पर असर नहीं पड़ा है। अभी तक न तो किसी उड़ान में देरी हुयी है और न ही कोई उड़ान रद्द की गयी है।मुंबई और ठाणे समेत अनेक स्थानों पर तीन दिनों से हो रही भारी बारिश की वजह से जनजीवन पर असर पड़ा है और वषार्जनित हादसों में कम से कम दो लोगों की मौत हो गयी है।ठाणे में पालघर के नायब तहसीलदार एस डी चौधरी ने आज बताया कि क्वाथे मनोर गांव में एक दीवार गिर जाने से लाहू स्वरा (59) की मौत हो गयी। एक अन्य घटना में मखाने रोड पर चग्ग्न पाटिल की तेज बारिश के दौरान मोटरसाइकिल पलट जाने से मृत्यु हो गयी।चौधरी ने बताया कि पालघर क्षेत्र में दूरदराज के गांव में भूस्खलन होने की भी सूचना हैं हालांकि इन हादसों में किसी के मारे जाने की रिपोर्ट नहीं है। ठाणे के निचले इलाके विटावा सब-वे,वन्दना सिनेमा, राम मारुति रोड, तीन हाथ नाका, मसुन्दा झील, कलवा और मुम्बरा में भारी बारिश के कारण जल भरने की खबरें हैं। कुछ इलाकों में झुग्गी बस्तियों में भी पानी भर गया है।आधिकारिक सूत्रों के अनुसार पालघर थाने में पानी भर गया है जिससे अनेक दस्तावेजों को नुकसान पहुंचा और कई रिकॉर्ड धुल गये। ठाणे जिले में अनेक जगहों पर बारिश से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है।राज्य में अनेक स्थानों में भारी बारिश होने से जल भराव होने की रिपोर्ट है

देश को अब भी अपने अगले राष्ट्रपति का चुनाव करना है, लेकिन रेल मंत्रालय पहले ही विजेता उम्मीदवार के आवागमन के लिए आठ करोड़ रुपये के रेलवे सैलून की योजना बना रहा है। मंत्रालय इस संबंध में एक प्रस्ताव नए राष्ट्रपति के पास मंजूरी के लिए जुलाई में भेजेगा।राष्ट्रपति के सैलून के लिए जर्मन रेल कोच का इस्तेमाल किया जाएगा। यह सैलून बुलेटप्रूफ शीशे वाली खिड़कियों, 20 लाइन के टेलीफोन एक्सचेंज, प्लाज्मा कलर टीवी, सेटेलाइट कम्यूनिकेशन, जीपीएस और जीपीआरएस सिस्टम से लैस होगा। इसके अलावा इसमें मॉड्यूलर किचन और लोगों को संबोधित करने के लिए पब्लिक एड्रेस सिस्टम भी होगा।आपको बता दें कि भारत के राष्‍ट्रपति अगर कहीं यात्रा पर जाते हैं, तो उनके लिए एक अलग ट्रेन होती है। आजादी के बाद से पद पर रहने के दौरान राष्ट्रपतियों की ओर से अब तक 87 बार इस सैलून का यात्रा करने में प्रयोग किया जा चुका है।पूर्व राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद, डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन और डॉ. नीलम संजीव रेड्डी रेलवे के जुड़वा सैलूनों से यात्रा कर चुके हैं। 1977 के बाद कोई भी राष्‍ट्रपति इस ट्रेन में नहीं बैठा। लेकिन 26 साल बाद 30 मई 2003 में यह ट्रेन फिर से चर्चा में आई।जब तत्‍कालीन राष्‍ट्रपति एपीजे अब्‍दुल कलाम ने इसका इस्‍तेमाल किया। अपने बिहार दौरे के समय डॉ. कलाम ने इस ट्रेन में बैठने का लुत्‍फ उठाया। कोचों में एक डाइनिंग रूम, विजिटिंग रूम, लॉन्‍ज रूम या कांफ्रेंस रूम और प्रेसीडेंट के आराम करने के लिए बेडरूम भी होता है। इसके अलावा खाने-पीने के इंतजाम के लिए किचन और प्रेसीडेंट के सेक्रेटरीज और अन्‍य स्‍टॉफ के सदस्‍यों के लिए अलग चैंबर बना होता है। ये कोचे लग्‍जीरियस होते हैं।

 

Page 1 of 1395

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें