उत्तर प्रदेशः वाराणसी में पुल का एक पिलर गिर जाने के करीब 18 लोगों की मौत हो गई। यह हादसा इतना भयानक था कि देखने वालों की रुह तक कांप गई। इस हादसे में कई घरों के चिराग बुझ गए। वहीं इस हादसे की जानकारी मिलते ही सीएम योगी तुरंत एक्शन में आ गए और कुछ ही समय में उस हादसे वाली जगह पहुंच गए। इसके बाद योगी ने हालात का जायजा लिया और पीड़ितों से मुलाकात की। घटना पर दुख जताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस सारे मामले पर संज्ञान लिया है और जो बी इस हादसे के दोषी होंगे, उन्हें सजा जरुर मिलेगी। सीएम योगी कहा कि हादसे की जानकारी प्राप्त होने के बाद मैंने डिप्टी सीएम को मौके पर भेजा। उन्होंने कहा, 'हादसे की जांच के लिए उच्च स्तरीय जांच टीम गठित की गई है। चार अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही जांच टीम से 48 घंटे में रिपोर्ट मांगी गई है।'उन्होंने मृतकों के परिवार के साथ संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि घायलों का उपचार हो रहा है। प्रदेश सरकार मृतक के परिजन को 5 और घायल को 2 लाख की सहायता राशि प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि आखिर फरवरी में रखी गई बीमें कैसे दुर्घटनाग्रस्त हो गईं, इसकी जांच की जाएगी।
बख्शे नहीं जाएंगे दोषी:-योगी ने कहा कि हादसे को लेकर जिम्मेदार लोगों की लापरवाही तय होगी। हम किसी भी दोषी को नहीं बख्शेंगे। रिपोर्ट आते ही ठोस कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि 15 लोगों की मौत के आंकड़े हमारे पास आए हैं और 11 लोगों के घायल होने की खबर है। एनडीआरएफ और पुलिस ने बचाव कार्य अच्छे से किया। लापरवाही के लिए कहीं भी जगह नहीं, सभी अधिकरियों को हिदायत दी गई है। इस हादसे की भी जबाबदेही होगी।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें