मुंबई - मुंबई के रेलवे स्‍टेशनों पर आजकल दुर्घटनाओं का सिलसिला जारी है। एल्‍फिंस्‍टन के बाद अंधेरी रेलवे स्‍टेशन पर रविवार रात छत से एक स्‍लैब के टूट कर गिरने से एक परिवार के दो सदस्‍य जख्‍मी हो गए। वडोदरा निवासी आशा के सिर पर अधिक चोट आयी है जबकि उनका भतीजा सौरभ को मामूली जख्‍म है।
आशा के सिर पर चोट लगी और खून बहने लगा जिसके बाद उन्‍हें तुरंत रेलवे स्‍टेशन के इमरजेंसी वार्ड में ले जाया गया। बाद में आशा ने एएनआई को बताया, ‘मेरा बेटा टिकट बुक कराने गया और हम वहीं पास में खड़े थे। अचानक छत से टूटकर एक स्‍लैब मेरे सिर पर गिरा। इसके बाद मेरा बेटा मुझे इमरजेंसी वार्ड में ले गया जहां मैं बेहोश हो गयी। मेरे भांजे को भी चोट आयी है।‘ डॉक्‍टरों की ओर से आशा की खोपड़ी में फ्रैक्‍चर की आशंका जतायी गयी है।
इस दुर्घटना से क्रोधित सौरभ ने कहा, ‘यदि यहां के यह हालात हैं तो अन्‍य पुराने रेलवे स्‍टेशनों के बारे में सोचें। इस हादसे के बाद कोई भी समझ सकता है कि इसके निर्माण में किस गुणवत्‍ता की चीजों का इस्‍तेमाल हुआ है।‘ वर्ष 2015 में अंधेरी रेलवे स्‍टेशन का निर्माण हुआ है।
उन्‍होंने आगे कहा, ‘एल्‍फिंसटन रेलवे स्‍टेशन में क्‍या हुआ, अंधेरी में भी वैसा हो सकता है। क्‍योंकि मुबई रेलवे में अंधेरी का स्‍थान अहम है।‘ एल्‍फिंस्‍टन रेलवे स्‍टेशन पर 29 सितंबर को हुए भगदड़ में कम से कम 22 लोग मारे गए और 30 गंभीर रूप से घायल हो गए।
सौरभ ने कहा, रलेवे ने उनके हालात की गंभीरता देखने के बाद भी हर्जाने के तौर पर मात्र 500 रुपये दिए हैं जो गलत है।‘ मीडिया से सौरभ ने कहा, हम अंधेरी रेलवे स्‍टेशन के खिला अंधेरी इस्‍ट पुलिस स्‍टेशन में शिकायत दर्ज कराएंगे। रिपोर्ट आने के बाद डॉक्‍टर आशा के इलाज को आगे बढ़ाएंगे।

 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें