Editor

Editor


न्यूयॉर्क (हम हिंदुस्तानी)-अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ फिजिशियंस ऑफ इंडियन आर्गेन की 36वीं वार्षिक कन्वैशन ग्रेटर कोलम्बस कनवैंशन सैंटर में 6 जुलाई 2018 को सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे आयोजित होगी। इस संदर्भ में जानकारी देते हुए अमेरिका एसोसिएशन ऑफ फिजिशियंस ऑफ इंडियन आर्गेन के अध्यक्ष डा. गौतम समादर ने बताया कि इस कन्वैंशन में मुख्यातिथि के रूप में यू.एस डिपार्टमैंट ऑफ हैल्थ एंड ह्यूमन सॢवसिज की चीफ मैडीकल ऑफिसर वनिला एम. सिंह उपस्थित होंगी। वनिला एम. सिंह मुख्य प्रवक्ता के रूप में जहां विभिन्न स्वास्थ्य पॉलिसियों के संदर्भ में जानकारी वहीं पर एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ स्वास्थ्य संबंधी विभिन्न मुद्दों पर चर्चा भी की जाएगी। दूसरी ओर इस संदर्भ में जानकारी देते हुए अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ फिजिशियंस ऑफ इंडियन आर्गेन इलैक्ट प्रैजीडैंट डा. नरेश पारिख ने बताया कि इस वार्षिक कन्वैंशन में विश्व भी से स्वास्थ्य विशेषज्ञ एवं फिजिशियंस उपस्थित होंगे जोकि चिकित्सा के क्षेत्र में किए जाने वाले बहुमूल्य कार्यों एवं खोजों के संदर्भ में अपने-अपने विचार पेश करेंगे।


न्यूयॉर्क (हम हिंदुस्तानी)-हैरिसबर्ग में पेंसिल्वेनिया राज्य सीनेट और प्रतिनिधि सभा का संबंधित सत्र हिंदू धर्म की प्रार्थनाओं के साथ 19 जून को किया गया। प्रार्थना सभा में जहां हिंदू धर्म के पुराने ग्रंथों को शामिल किया गया वहीं पर गायत्री मंत्रोच्चारण के साथ वातावरण भक्तिमयी हो गया। इस संदर्भ में जानकारी देते हुए यूनिवर्सल सोसायटी ऑफ हिंदूज्म के अध्यक्ष राजन जैद ने बताया कि सबसे पहले गंगाजल से पूजा स्थल को शुद्ध किया गया तथा जिसके उपरांत पहले संस्कृत भाषा में गायत्री मंत्रोच्चारण किया गया और जिसका बाद में अंग्रेजी भाषा में अनुवाद किया गया। श्री जैद ने कहा कि यह बहुत ही खुशी की बात है कि हिंदू धर्म का विश्व स्तर पर प्रचार एवं प्रसार हो रहा है। प्रार्थना सभा के दौरान पेंसिल्वेनिया हाऊस ऑफ रिप्रैंजेंटेटिव्स के अध्यक्ष माइक तुर्जई एवं डेव रीट आदि उपस्थित थे।

चारा घोटाले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को सुनाने वाले सीबीआई के तत्कालीन विशेष जज शिवपाल सिंह के घर में बुधवार की रात चोरी हो गई। वे वर्तमान में झारखंड के गोड्डा में जज हैं। शिवपाल सिंह के उत्तर प्रदेश के जालौन स्थित पुस्तैनी घर में लाखों की चोरी हुई है। बुधवार देर रात चोरों ने 1.5 से दो लाख रुपये के सोने-चांदी के जेवरात और 60 हजार रुपये नकद पर हाथ साफ कर दिया। फिलहाल पुलिस मौके पर तफ्तीश में जुटी है।शिवपाल सिंह का पुस्तैनी घर जालौन कोतवाली के शेखपुर खुर्द ग्राम में है। गांव में उनके भाई रहते हैं। बुधवार की रात जज के भाई सुरेंद्र पाल अपने घर के अन्य लोगों के साथ छत पर सो रहे थे। जब गुरुवार सुबह सुबह वो नीचे आए तो देखा कि घर का सारा सामान बिखरा पड़ा था। जिसके बाद परिवार के सदस्यों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। एसपी अमरेन्द्र प्रसाद सिंह ने बताया कि मामले की कार्रवाई की जा रही है। जल्द ही घटना का खुलासा किया जाएगा।

भारतीय जनता पार्टी पर हमला करते हुए शिवसेना ने आरोप लगाया कि अराजकता फैलाने के बाद भगवा दल जम्मू-कश्मीर में सत्ता से बाहर हो गया और उसने जो लालच दिखाया है उसके लिए इतिहास उसे कभी माफ नहीं करेगा। शिवसेना ने भाजपा के कदम की तुलना अंग्रजों के भारत छोड़कर जाने से करते हुए कहा कि जब भाजपा इस उत्तरी राज्य में आतंक और हिंसा पर लगाम नहीं लगा पाई तो उसने इसका ठीकरा पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) पर फोड़ दिया।उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी हमला बोलते हुए कहा कि देश चलाना बच्चों का खेल नहीं है। जम्मू-कश्मीर में पीडीपी के साथ सत्तारूढ़ गठबंधन से भाजपा ने पिछले दिनों समर्थन वापस ले लिया था जिसके कारण महबूबा मुफ्ती को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। इसके बाद बुधवार को राज्य में राज्यपाल शासन लगा दिया गया। बीते एक दशक में यह चौथी बार था जब यहां राज्यपाल शासन लगाया गया। अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में शिवसेना ने लिखा कि घाटी में अराजकता फैलाने के बाद भाजपा कश्मीर में सत्ता से बाहर चली गई। केंद्र और महाराष्ट्र सरकार में भाजपा की सहयोगी शिवसेना ने लिखा कि वहां हालात कभी भी इस हद तक नहीं बिगड़े थे। इतने बड़े स्तर पर खून की नदियां कभी नहीं बहीं थी और पहले कभी इतनी बड़ी संख्या में जवान शहीद नहीं हुए थे। इसमें कहा गया कि यह सब घाटी में भाजपा के शासन में हुआ। हालांकि इसका दोष पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती पर मढ़ दिया गया और भगवा दल एक सज्जन पुरुष की तरह सत्ता से बाहर हो गया।संपादकीय में लिखा, कश्मीर की सरकार लालच (भाजपा के) के कारण बनी थी। इस लालच की बहुत बड़ी कीमत देश को , जवानों को और कश्मीर के लोगों को चुकानी पड़ी। इसके लिए इतिहास भाजपा को कभी माफ नहीं करेगा।

भारतीय मूल के अमेरिकी सांसदों ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नए आदेश की आलोचना की है। उन्होंने कहा है कि, जिसमें देश में अवैध रूप से प्रवेश करने वाले परिवारों को अनिश्चित समय के लिए हिरासत में रखने का प्रावधान है। यद्यपि इसमें बच्चों को उनके अभिभावकों से अलग करने की कार्रवाई पर रोक लगा दी गई है।कांग्रेस सदस्य प्रमिला जयपाल ने कहा कि ट्रंप का नया शासकीय आदेश पूरी तरह से अस्वीकार्य है जो कि परिवारों को अनिश्चित समय के लिए हिरासत में रखने की इजाजत देता है। उन्होंने कहा कि प्रवासियों के नजरबंदी शिविर ''अमानवीय हैं। उन्होंने कहा, ''इसके अलावा बच्चों को लंबे समय तक या अनावश्यक रूप से हिरासत में रखने को गैरकानूनी करार दिया गया है। यदि ट्रंप प्रशासन एक आपराधिक अदालत मामले की सुनवायी के दौरान परिवारों को अनिश्वित समय के लिए हिरासत में रखना चाहता है तो यह अजीबोगरीब होगा और इसे अदालत में चुनौती दिये जाने की उम्मीद है। परिवार को अलग करना गलत है। इसके साथ ही परिवारों को जेल डालना भी गलत है।ट्रंप ने अमेरिकी सीमा पर प्रवासी बच्चों को उनके अभिभावकों से अलग करने की कार्रवाई पर रोक लगाने का एक शासकीय आदेश दिया है। ट्रंप ने यह आदेश रिपब्लिकन, डेमोक्रेट सदस्यों और अंतरराष्ट्रीय समुदाय के भारी दबाव में दिया है। यह शासकीय आदेश दक्षिण अमेरिकी सीमा से अवैध रूप से अमेरिका में प्रवेश करने वालों से उनके बच्चों को अलग करने के बाद आया है। पिछले कुछ हफ्तों में 2,300 से अधिक बच्चों को उनके मां-बाप से अलग किया गया।सीनेटर कमला हैरिस ने कहा कि शासकीय आदेश से संकट का हल नहीं होता। उन्होंने कहा, ''बच्चों को उनके परिवारों के साथ शिविरों में अनिश्चित समय के लिए रखना अमानवीय है और इससे हम सुरक्षित नहीं होंगे। कांग्रेस सदस्य आर खन्ना ने कहा कि ट्रंप का शासकीय आदेश का परिणाम यह होगा कि अभी भी मनुष्यों को सलाखों के पीछे रखा जाएगा। उन्होंने कहा,''मुझे इस बात की खुशी है कि इन बच्चों को अब उनके अभिभावकों से अलग नहीं किया जाएगा लेकिन यह ''हल समस्या सुलझाने के करीब नहीं होगा। हम और की मांग करते हैं।

शाहिद कपूर इन दिनों आईफा अवॉर्ड्स की तैयारियों में बिजी थे, लेकिन खबर आ रही है कि वो अब परफॉर्म नहीं कर पाएंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शाहिद डांस रिहर्स करते वक्त चोटिल हो गए।खबरों के मुताबिक, ऐसा तब हुआ जब एक मुश्किल स्टेप को करने की कोशिश में उनकी पीठ में लचक आ गई। डॉक्टर्स ने उन्हें रेस्ट करने की सलाह दी है। हालांकि अभी आयोजकों की तरफ से कोई जानकारी नहीं मिली है, लेकिन ऐसा कहा जा रहा है कि कल रात को उन्हें बैंकॉक के लिए रवाना होना था, लेकिन शाहिद को अपनी हालात को देखते हुए प्लान कैंसल करना पड़ा।ऐसा कहा जा रहा है कि शाहिद को फिल्म 'बत्ती गुल मीटर चालू' की टेहरी में चल रही शूटिंग के दौरान चोट लग गई थी, लेकिन शाहिद तब मुंबई वापस चले आए तो उन्होंने आईफा के लिए रिहर्स करना शुरू कर दिया था। इसी दौरान डांस का एक मुश्किल स्टेप करते वक्त उनकी पीठ की चोट और गहरी हो गई। डॉक्टर्स ने उन्हें रेस्ट करने की सलाह दी है और इसके साथ ये भी हिदायत दी है कि वो फिलहाल इस तरह के कोई स्टंट या काम न करें जिससे उनकी चोट और गहरी हो जाए। शाहिद कपूर की पत्नी मीरा राजपूत को हाल ही में एक कैफे के दौरान स्पॉट किया गया। इस दौरान मीरा ने एक ब्लू कलर की शॉट ड्रेस पहनी थी जिसमें उनका बेबी बंप साफ दिख रहा था।

मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप पर आपके पास रोज हजारों मैसेज आते होंगे, उनमें से कुछ सच होते हैं तो कुछ महज अफवाह होते हैं। लेकिन कौन से मैसेज फेक हैं और कौन से असली इसकी पहचान करना बहुत मुश्किल होता है। ऐसे मैसेज जो महज अफवाह होते हैं कई बार बड़ी मुसीबत खड़ी कर देते हैं। ऐसी ही मुसीबत को रोकने का बीड़ा तेलंगाना की एक पुलिस ऑफिसर ने उठाया। वॉट्सऐप पर लगातार बढ़ रही फेक न्यूज से चिंतित पुलिस ऑफिसर राजेश्वरी गांववालों के बीच पहुंचीं और उन्हें समझाया की कोई भी मैसेज आगे भेजने से पहले दो बार जरूर सोचें। मैसेज को समझें की आपके पास जो मैसेज आया है वो असली है या अफवाह है।
400 गावों में नहीं हुई कोई अफवाह की वजह से कोई हत्या:आपको बता दें कि मई-जून के महीने में असम, महाराष्ट्र और तमिलनाडू में व्हाट्सऐप मैसेज से संबंधित किसी अफवाह के चलते 6 लोगों की हत्या की जा चुकी है। इसका अलावा कुछ मैसेजों के जरिए हिन्दू-मुस्लिम समुदाय के बीच तनाव पैदा किया जा रहा है। इन्हीं सब खबरों से चिंतित राजेश्वरी खुद गांववालों के बीच पहुंचीं और उन्हें सतर्क रहने को कहा। लोगों से मिलने पहुंचीं राजेश्वरी ने कहा कि आपके पास मैसेज आते हैं किसी मैसेज में फोटो होता है किसी में वीडियो होता है, आप ये चेक नहीं करते कि आपके पास जो फोटो और वीडियो आया वो सच है या झूठ और बिना सोचे उसे आगे बढ़ा देते हैं। ऐसे किसी भी मैसेज को आगे ना भेंजे किसी भी रूप में ना कानून अपने हाथ में लें और ना किसी और को लेने दें। राजेश्वरी के इस कैंपेन का असर भी देखने को मिला है। जब से तेलंगाना में राजेश्वरी की पोस्टिंग हुई है तबसे करीब 400 गावों में झूठे मैसेज यानी फेक मैसेज के चलते किसी की हत्या नहीं हुई।
कौन हैं राजेश्वरी :2009 में राजेश्वरी ने इंडियन पुलिस सर्विस ज्वाइन की थी। उन्हें आंध्र प्रदेश में तैनात किया गया था तेलंगाना के अलग राज्य बनने के बाद 2014 वो तेलंगाना की पुलिस ऑफिसर नियुक्त हईं। 39 साल की राजेश्वरी हैदराबाद में एक सरकारी बंगले में रहती हैं। राजेश्वरी ने कुछ गांवों कॉन्स्टेबल को सौंप दिए जहां उन्हें हफ्ते में कम से कम एक बार जरूर जाना होता है। वहां वो लोगों के बीच जाकर उनकी समस्या सुनते हैं जैसे बाल विवाह की समस्या। जब पुलिस कॉन्स्टेबल गांव का दौरान करने गया तो पहले ही दौरे में वो ये देखकर हैरान हो गया कि जो लोग गर्मियों में घर के बाहर सो रहे थे वही लोग बच्चों की किडनैपिंग वाले वीडियो में नजर आ रहे हैं। राजेश्वरी ने बताया की ये सब देखकर वो काफी परेशान हो गई थीं। इसलिए उन्होंने गांववालों के बीच पहुंचकर बात करने का फैसला किया।
500 ऑफिसर अपने साथ किए ट्रेंड :पुलिस ऑफिसर ने इस कैंपने के लिए 500 ऑफिसर्स को अपने साथ ट्रेंड किया था। उन्होंने बताया कि लोगों को पढ़ाने के लिए पहले हमने अपने ऑफिसर्स को पढ़ाया। इसके अलावा उन्होंने 100 से ज्यादा गांव के लीडर्स से बात की। हमने गांव वालों से मिलकर उन्हें कुछ वीडियोज दिखाए और सही गलत का फर्क समझाया और कहा कि ऐसे किसी भी मैसेज को आगे ना भेजें जो आग जाकर मुसीबत बन जाए। वॉट्सऐप पर सर्कुलेट हो रहे फेक मैसेज पर वॉट्सऐप के प्रवक्ता कार्ल वोग का कहना है कि कुछ लोग इस मैसेजिंग ऐप का गलत फायदा उठा रहे हैं। क्योंकि भारत में 2019 में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं ऐसे में हम इन अफवाह वाले मैसेजों पर पूरी तरह से लगाम लगाने को कोशिश कर रहे हैं। आई बी मिनिस्ट्री ने हाल ही में एक कंपनी को इसका टेंडर भी दिया है जो वॉट्सऐप पर झूठे मैसेज पर लगाम लगा सके।

पंजाब के रोपड़ से आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक अमरजीत सिंह संदोआ पर आज रोपड़ जिले में नूरपुर बेदी के पास खनन माफियाओं के गुंडों ने हमला कर दिया। हमले के दौरान आप विधायक की पगड़ी उछाली गई और उनके दो सुरक्षाकर्मियों से भी धक्का-मुक्की की गई।पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता और आप के वरिष्ठ नेता सुखपाल सिंह खैरा ने कहा कि संदोआ पर खनन माफियाओं के गुंडों ने हमला किया। उन्होंने कहा कि विधायक को चंडीगढ़ के पीजीआईएमईआर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।खैरा ने दिल्ली से चंडीगढ़ लौटते वक्त फोन पर बताया कि अगर यह निर्वाचित प्रतिनिधियों की हालत है जिन्हें सुरक्षा भी मुहैया कराई गई है, तो आप आम नागरिकों के बारे में कल्पना कीजिए। मामले की जानकारी मिलते ही रोपड़ के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर हालात का जायजा लिया।ताजा घटना से तीन दिन पहले पंजाब वन विभाग के दो कर्मचारियों पर रेत खनन माफियाओं ने हमला किया था, जबकि चार अन्य अधिकारियों को मामूली चोटें आई थीं।

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह आज पहली बार तीन दिनों के मंगोलिया दौरे पर रवाना हुए। दौरे का उद्देश्य कूटनीतिक रूप से महत्वपूर्ण पूर्वी एशियाई देश के साथ संबंधों को मजबूत करना है जिसकी सीमा चीन और रूस से लगती है। मंत्री ने रवाना होने से पहले एक संदेश में कहा कि भारत मंगोलिया के साथ द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करना चाहता है।सिंह ने ट्वीट किया कि मंगोलिया के तीन दिवसीय दौरे पर उलानबटोर के लिए रवाना हो रहा हूं। मंगोलिया से भारत के संबंध और सुरक्षा सहयोग मजबूत करना चाहता हूं। भारत मंगोलिया के साथ द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करना चाहता है। गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि वह उलानबटोर में एक रिफाइनरी की आधारशिला रखे जाने के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। उन्होंने कहा कि सिंह उसी दिन मंगोलिया के प्रधानमंत्री की तरफ से आयोजित सम्मान समारोह में शिरकत करेंगे।प्रवक्ता ने बताया कि सिंह 23 जून को मंगोलिया के राष्ट्रपति से भी मुलाकात करेंगे। गृह मंत्री शनिवार को एक बौद्ध मठ का भी दौरा करेंगे और मंगोलिया के अपने समकक्ष तथा न्याय गृह मामलों के मंत्री के साथ बैठक करेंगे। वह मंगोलिया के सीमा सुरक्षा बल के मुख्यालय में जाएंगे और फिर 24 जून को नयी दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

अभिनय से राजनीति में कदम रखने वाले मशहूर अभिनेता कमल हासन ने कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी से मुलाकात की और तमिलनाडु के राजनीतिक हालात पर बातचीत की। सोनिया से मुलाकात के बाद हासन ने कहा कि मैंने सोनिया गांधी से मुलाकात की और हमने तमिलनाडु में राजनीतिक परिस्थिति पर चर्चा की।यह पूछे जाने पर कि आगामी लोकसभा चुनाव के लिए विपक्षी दलों को एकजुट करने के कांग्रेस के प्रयास में सहयोग करेंगे तो उन्होंने कहा कि इस बारे में अभी कुछ फैसला करना जल्दबाजी होगी। हासन ने बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी। उन्होंने हाल ही में तमिलनाडु में अपनी राजनीतिक पार्टी मक्कल निधि मय्यम शुरु की।गौरतलब है कि तमिलनाडु में दो क्षेत्रीय दलों अन्नाद्रमुक और द्रमुक का बहुत हद तक वर्चस्व है। राज्य में 2021 में विधानसभा चुनाव होने हैं।

 

 

Page 9 of 2808

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें