दिल्ली - बॉलीवुड के सुपरस्टार शशि कपूर दुनिया को अलविदा कह गए, लेकिन उनका जिंदगी जीने का फलसफा और उनका अंदाज हमेशा लोगों के बीच रहेगा। 4 दिसंबर की शाम शशि कपूर का देहांत हो गया था और 5 दिसंबर को उनके पार्थिव शरीर का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। इन सब के बीच जो एक चीज थी, वह दी पृथ्वी थिएटर में होने वाले शो। जी हां, मंगलवार की शाम रात 9 बजे वहां पर शो को गर्मजोशी के साथ किया गया।
दरअसल, थिएटर की मैनेजनेंट का कहना था कि आज के दिन यानि मंगलवार को शो जारी करना शशि कपूर के लिए सबसे बड़ी श्रद्धांजलि है। उनका कहना है कि पृथ्वी थिएटर हमेशा वैसे ही चलता रहेगा, जैसे शशि कपूर चाहते थे।
बता दें कि पृथ्वी थिएटर में हुए शो का नाम था 'द फादर'। नाटक का निर्देशन नसीरुद्दीन शाह द्वारा किया गया था। जिसकी कहानी बाप-बेटी के रिश्तों पर आधारित है। नाटक में दिखाया गया कि बीमारियों और परेशानियों के चलते पिता अपनी याद्दाश्त खोता जा रहै है, लेकिन बेटी अपनी जिंदगी की परेशानियों के बावजूद पिता का ख्याल रख रही है। थिएटर में उनका योगदान इतना ज्यादा है कि शायद ही कोई बॉलीवुड हस्ती उनके करीब पहुंच पाएगी। और यही एक वजह है कि आज उनके हम सभी के बीच न होने के बावजूद हम उन्हें इस शो के जरिए याद कर रहे हैं। उन्हें इस शो के जरिए श्रद्धांजलि दे रहे हैं। यही वह एक काम है जो उन्हें करना बहुत पसंद था।
गौरतलब है कि ऐसा ही कुछ मानना था शशि कपूर के बड़े भाई और एक्टर, निर्मात-निर्देशक राज कपूर का। राज कपूर भी अकसर कहा करते थे कि 'द शो मस्ट गो ऑन'। और इस बात को राज कपूर ने अपनी फिल्म 'मेरा नाम जोकर' में भी बखूबी दिखाया था। राज कपूर की इस फिल्म में जोकर को मां की मौत का पता चलने के बावजूद वो दर्शकों के बीच अपना करतब दिखाने मंच पर उतरता है। एक कलाकार की ड्यूटी के तौर पर दर्शकों का मनोरंजन करता है। और यही शशि कपूर भी चाहते थे कि किसी भी कारण से शो नहीं रुकना चाहिए। बता दें कि शशि कपूर की बेटी संजना कपूर, बेटे कुणाल और करन कपूर ने अपने पिता को यही श्रद्धांजलि दी।
बता दें कि शशि कपूर का सोमवार शाम 5 बजे कोकिलाबेन अस्पताल में निधन हो गया था। वह काफी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। किडनी की बीमारी से जूझ रहे शशि कपूर को मंगलवार दोपहर 12 बजे अंतिम विदाई दी गई।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें