नई दिल्ली - सोशल मीडिया साइट ट्विटर के सीईओ और सह संस्थापक जैक डॉर्सी ने लगातार तीसरे साल 2017 में कोई भी सैलरी नहीं ली है। उन्होंने माइक्रो ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म को चलाने के लिए एक भी पैसा बतौर सैलरी स्वीकार नहीं किया है।
ट्विटर की ओर से यूएस सिक्योरिटी एंड एक्सचेंज कमीशन (एसईसी) को फाइल की गई प्रॉक्सी स्टेटमेंट में बताया गया, “अपनी प्रतिबद्धता को साक्षी मानकर और ट्विटर की लॉन्ग टर्म वैल्यू क्रियेशन क्षमता में विश्वास रखते हुए हमारे सीईओ जैक डॉर्सी ने वर्ष 2017 में सभी कंम्पन्सेशन लेने से इनकर कर दिया है।”
डॉर्सी के पास हालांकि, शेयर्स हैं जिनकी वैल्यू वर्ष 2018 की शुरुआत में 20 फीसद तक बढ़ गई। दो अप्रैल के मुताबिक डॉर्सी के पास ट्विटर के 10 मिलियन शेयर्स हैं जिनकी मौजूदा कीमत 529 मिलियन डॉलर है। इनकी होल्डिंग सभी बकाया शेयर्स का 2.39 फीसद हिस्सा है। यह जानकारी वैरायटी की रिपोर्ट के मुताबिक सामने आई है।
फाइलिंग के अनुसार, ट्विटर के सीएफओ नेड सेगल के पास वर्ष 2017 में 14.3 मिलियन डॉलर कंम्पन्सेशन के रूप में थे। आपको जानकारी के लिए बता दें कि ट्विटर के वैश्विक स्तर पर 330 मिलियन एक्टिव यूजर्स हैं। वर्तमान में कंपनी डॉर्सी के नेतृत्व में बड़ी निरीक्षण प्रक्रिया से गुजर रही है ताकि कंपनी के भाग्य को पुनर्जीवित किया जा सके।
वर्ष 2016 में डॉर्सी को मिलने वाली पर्सनल और रेजिडेंशियल सिक्योरिटी की लागत 68,506 डॉलर थी। डॉर्सी पेमेंट कंपनी स्क्वेर कंपनी के सीईओ भी है जिनके पास कंपनी के 65.5 मिलियन शेयर्स हैं जिनका मौजूदा समय में मूल्य 3.1 बिलियन डॉलर है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें