कारोबार

कारोबार (2338)


नई दिल्ली - ट्राई के साथ चर्चा में दूरसंचार कंपनियों ने इंटरनेट पर चलने वाले वाट्सएप जैसे मोबाइल एप के माध्यम से की जाने वाली कॉल्स से उद्योग को हो रहे नुकसान का मुद्दा उठाया। कंपनियों का कहना था कि एप आधारित कॉल्स के कारण उद्योग पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है।
दूरसंचार नियामक प्राधिकरण ट्राई ने राष्ट्रीय टेलीकॉम नीति तैयार करने के सिलसिले में टेलीकॉम कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक का आयोजन किया था। इसमें प्रमुख टेलीकॉम कंपनियों के अलावा दूरसंचार विभाग के अधिकारियों ने भी हिस्सा लिया।
ट्राई के अध्यक्ष आर. एस. शर्मा ने बताया कि चर्चा के दौरान टेलीकॉम कंपनियों की ओर से उद्योग को प्रभावित करने वाले छह-सात प्रमुख मुद्दे उठाए गए। इनमें एप आधारित कॉल्स के अलावा करों को युक्तिसंगत बनाने तथा इन्फ्रास्ट्रक्चर विस्तार से जुड़ी अड़चनों को समाप्त किए जाने के मुद्दे शामिल हैं। एक देश, एक लाइसेंस और जीएसटी के तहत करों के युक्तिकरण के मुद्दे पर ट्राई और उद्योग के विचार लगभग एक जैसे हैं।
गौरतलब है कि वाट्सएप, वाइबर व गूगल डुओ जैसे एप्स इंटरनेट के उपयोग के जरिये कॉल की सुविधा प्रदान करते हैं। इससे इंटरनेशन कॉल भी डोमेस्टिक कॉल्स की तरह काफी सस्ती पड़ती हैं। कुछ समय पहले सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी बीएसएनएल ने भी अपना एप लांच करने की कोशिश की थी। लेकिन निजी टेलीकॉम कंपनियों के विरोध के कारण उसे अपना इरादा त्यागना पड़ा। इसके बाद ट्राई ने पिछले साल अक्टूबर में केवल टेलीकॉम कंपनियों को ऐसे एप लाने की अनुमति देने, उनके लिए अलग मोबाइल नंबर सीरीज जारी करने तथा इन कॉल्स पर भी इंटरनेशनल लांग डिस्टैंस (आइएलडी) कॉल्स के नियम लागू करने का सुझाव दिया था।
मंगलवार को ट्राई के साथ चर्चा में टेलीकॉम ऑपरेटरों ने ऐसी स्पेक्ट्रम नीति बनाने की जरूरत भी बताई जिसमें उद्योग को पहले से पता चल सके कि भविष्य में किस फ्रीक्वेंसी के बैंड की कब नीलामी होने वाली है। इस संबंध में टेलीकॉम कंपनियां अगले कुछ रोज में हमें अपने सारे सुझाव दे देंगी। इसके बाद ही ट्राई अपना रोडमैप तैयार कर सकेगा। टेलीकॉम कंपनियों ने मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी के मुद्दे पर भी चर्चा कराए जाने की इच्छा प्रकट की है।
कॉल ड्रॉप के बारे में पूछे जाने पर शर्मा ने कहा कि कॉल ड्रॉप पर विभिन्न टेलीकॉम कंपनियों के प्रदर्शन की रिपोर्ट हम इस महीने के अंत तक प्रकाशित करेंगे। इसमें कॉल ड्रॉप पर प्रदर्शन का आकलन नए नियमों के आलोक में किया जाएगा।


नई दिल्ली - केंद्रीय पर्यटन मंत्री केजे अल्फोंस ने मंगलवार को बताया कि भारत पहुंचने वाले विदेशी पर्यटकों की संख्या पहली बार एक करोड़ के आंकड़े को पार गई है।
उन्होंने नेशनल काउंसिल फॉर होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टैक्नोलॉजी (एनसीएचएमसीटी), नोएडा द्वारा आयोजित एक समारोह में बताया कि इस क्षेत्र में वर्ष 2017 में 15.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। भारत में अकेले पर्यटन क्षेत्र ने पिछले साल 27.7 अरब अमेरिकी डॉलर (180379 करोड़ रुपये) अर्जित किए और जीडीपी में 6.88 प्रतिशत का योगदान दिया। इस क्षेत्र ने कुल रोजगार के रूप में 12.36 फीसदी भागेदारी निभाई।
अल्फोंस ने कहा, 2017 में 15.6 प्रतिशत की वार्षिक वृद्धि के साथ भारत पहुंचने वाले विदेशी पर्यटकों का आंकड़ा एक करोड़ के पार चला गया है। सरकार की समग्र नीतियों विशेषकर विशिष्ट देशों के लिए ई-वीजा प्रदान करने और वीजा ऑन अराइवल के चलते इस क्षेत्र में विकास की बड़ी संभावना है।


नई दिल्ली - रिपब्लिक डे पर एयरलाइंस कंपनी GoAir अपने ग्राहकों को विशेष ऑफर दे रही है। एयरलाइंस कंपनी GoAir सीमित समय के लिए डोमेस्टिक फ्लाइट की टिकट पर छूट दे रही है।
आपको बता दें कि वाडिया ग्रुप प्रोमोटिड एयरलाइन डोमेस्टिक डेस्टिनेशंस पर 1544 से ज्यादा फ्लाइट्स प्रति सप्ताह ऑपरेट करती है। एयरलाइंस कंपनी GoAir के ऑफर में टिकट का किराया 726 रुपए से 3926 रुपए तक है जो इसके रिपब्लिक डे बोनाजा का पार्ट है। इस डिस्काउंट को पाने के लिए गो एयर के मोबाइल एप से टिकट बुकिंग कराने के दौरान GOAPP10 प्रोमो कोड इस्तेमाल करना होगा।
कंपनी की तरफ से जारी की गई रिलीज में बताया गया है कि 24 जनवरी से 5 दिन तक टिकट की बुकिंग कर सकते हैं जबकि यात्रा का समय 1 मार्च से 31 दिसंबर होगा।


नई दिल्ली - पेट्रोल, डीजल के दाम में आज उछाल दर्ज किया गया। भाजपा सरकार के 2014 में सत्ता में आने के बाद दोनों पेट्रोलियम उत्पादों का यह उच्चतम स्तर है। पेट्रोलियम मंत्रालय ने दाम में तेजी को देखते हुए उत्पाद शुल्क कटौती की मांग की है।
सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों की ईंधन कीमत सूची के अनुसार दिल्ली में पेट्रोल का भाव बढ़कर 72.38 रुपये प्रति लीटर पहुंच गया। मार्च 2014 के बाद यह इसका सबसे ऊंचा स्तर है। दिसंबर मध्य से कीमत में 3.31 रुपये लीटर की वृद्धि हुई है। मुंबई में पेट्रोल की कीमत 80 रुपये के आंकड़े को पार कर गई है। जबकि मुंबई में डीजल का भाव 67.30 रुपये लीटर पर पहुंच गया है। इसका कारण स्थानीय बिक्री कर (वैट) का अधिक होना है।
तेल कंपनियों के अनुसार दिसंबर- मध्य से डीजल में 4.86 रुपये लीटर की वृद्धि हुई है। अंतरराष्ट्रीय तेल बाजारों में दाम में तेजी को देखते हुए पेट्रोलियम मंत्रालय ने वित्त मंत्रालय से 2018-19 के केंद्रीय बजट में उत्पाद शुल्क में कटौती की मांग की है। संसद में बजट अगले सप्ताह पेश किया जाएगा। पेट्रोलियम सचिव के डी त्रिपाठी ने कल कहा था कि मंत्रालय ने उद्योग से मिले सुझाव के आधार पर सिफारिशें विचार के लिये भेजीं हैं। हालांकि, उन्होंने इस बारे में कोई ब्योरा देने से मना कर दिया।
केंद्र सरकार पेट्रोल पर 19.48 रुपये प्रति लीटर तथा डीजल पर 15.33 रुपये प्रति लीटर उत्पाद शुल्क लेती है। जबकि दिल्ली में पेट्रोल पर वैट (मूल्य वर्द्वित कर) 15.39 रुपये और डीजल पर 9.32 रुपये है। दो प्रमुख मानक ब्रेंट और अमेरिकी वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट क्रूड आज बढ़कर क्रमश: 69.41 डालर प्रति बैरल तथा 63.99 डालर प्रति बैरल पर पहुंच गये। पिछले साल जून से पेट्रोल और डीजल की कीमत दैनिक आधार पर संशोधित की जा रही है। आज जहां पेट्रोल का दाम 15 पैसे प्रति लीटर बढ़ा वहीं डीजल 19 पैसे महंगा हुआ।
प्रमुख शहरों में पेट्रोल और डीजल की कीमत और बढ़ोत्तरी
दिल्ली में पेट्रोल की कीमत
1 जनवरी: 69.97 रुपये प्रति लीटर
23 जनवरी: 72.38 रुपये प्रति लीटर
दिल्ली में डीजल की कीमत
1 जनवरी: 59.70 रुपये प्रति लीटर
23 जनवरी: 63.20 रुपये प्रति लीटर
मुंबई में पेट्रोल की कीमत
1 जनवरी: 77.87 रुपये प्रति लीटर
23 जनवरी: 80.25 रुपये प्रति लीटर
मुंबई में डीजल की कीमत
1 जनवरी: 63.35 रुपये प्रति लीटर
23 जनवरी: 67.30 रुपये प्रति लीटर
कोलकाता में पेट्रोल की कीमत
1 जनवरी: 72.72 रुपये प्रति लीटर
23 जनवरी: 75.09 रुपये प्रति लीटर
कोलकाता में डीजल की कीमत
1 जनवरी: 62.36 रुपये प्रति लीटर
23 जनवरी: 65.86 रुपये प्रति लीटर
चेन्नई में पेट्रोल की कीमत
1 जनवरी: 72.53 रुपये प्रति लीटर
23 जनवरी: 75.06 रुपये प्रति लीटर
चेन्नई में डीजल की कीमत
1 जनवरी: 62.690 रुपये प्रति लीटर
23 जनवरी: 66.64 रुपये प्रति लीटर

 


नई दिल्ली - रेल यात्रियों को सुरक्षित यात्रा अनुभव प्रदान करने के लिए भारतीय रेल देश भर के अपने सभी ट्रेनों में और स्टेशनों पर अत्याधुनिक सीसीटीवी कैमरा लगाएगी।
रेलवे ने वित्त वर्ष 2018-19 में सभी 11,000 ट्रेनों में सीसीटीवी प्रणाली स्थापित करने के लिए करीब 3,000 रुपये का प्रावधान किया है। साथ ही इससे भारतीय रेल नेटवर्क के सभी 8,500 स्टेशनों पर सुरक्षा का प्रावधान किया जाएगा। वर्तमान में, रेलवे के 395 स्टेशनों और करीब 50 ट्रेनों में सीसीटीवी प्रणाली लगी है। वित्त मंत्री अरुण जेटली अपने 2018-19 के बजट में रेल परिचालन में सुरक्षा तंत्र को मजबूत करने के लिए किए जाने वाले प्रावधानों का विवरण जारी करें
रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सभी मेल/एक्सप्रेस और प्रीमियम ट्रेनों में (राजधानी समेत) शताब्दी, दूरंतो और लोकल पैसेंजर सेवाओं में अगले दो सालों में आधुनिक निगरानी प्रणाली स्थापित कर दी जाएगी।
रेलवे सीसीटीवी कैमरा स्थापित करने के लिए वित्त जुटाने के लिए विभिन्न विकल्पों की तलाश कर रही है और जरूरत पड़ने पर बाजार से भी संसाधन जुटाएगी।
पिछले साल रेलवे दुर्घटनाओं की बढ़ती संख्या को देखते हुए इस साल रेल बजट में सुरक्षा और दुर्घटना से बचाव को शीर्ष प्राथमिकता दी जाएगी। उसके यात्रियों के लिए सुविधाएं बढ़ाने को प्राथमिकता दी जाएगी।

पेट्रोल 80 रुपये के पार, डीजल भी 67 पर


नई दिल्ली - देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें आसमान छूती जा रही है। हर दिन कीमतों में बढ़ोत्तरी से अब हालात ये हो गए हैं कि पेट्रोल की कीमत 80 रुपये प्रति लीटर को भी पार कर गई है। जबकि डीजल के दाम भी 67 रुपये प्रति लीटर तक पहुंच गए हैं। हालांकि ये वृद्धि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में लगातार आ रही बढ़ोतरी की वजह से है।
अगर देश की राजधानी दिल्ली की बात करें तो यहां डीजल की कीमत नये रिकार्ड पर है। यहां पेट्रोल 72.33 प्रति लीटर तो डीजल 63.01 प्रति लीटर है। वहीं देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में सोमवार को एक लीटर पेट्रोल 80.10 रुपये पर पहुंच गया। वहीं, डीजल के लिए भी यहां लोगों को 67.10 रुपये चुकाए। वैसे दोनों ही ईंधन वाणिज्यक महानगर में सबसे अधिक हैं। सरकार ने पिछले साल 15 अक्टूबर से दोनों ईंधन की कीमतों को रोजाना अंतरराष्ट्रीय भावों के अनुरूप तय करने का निर्णय लिया था। इसके बाद एकाध मौके को छोड़कर दाम बढ़ते ही रहे हैं।
इस बीच सरकार ने कहा है कि वह लगातार पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने की कोशिश में जुटी हुई है।
पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि सरकार लगातार पेट्रोल-डीजल और केरोसीन को जीएसटी के दायरे में लाने की कोशिश में जुटी हुई है। इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं।
उन्होंने उम्मीद जताई कि जीएसटी परिषद जल्द ही इसको लेकर कोई फैसला ले सकती है। पेट्रोल और डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों को लेकर उन्हेांने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लगातार कच्चे तेल की कीमतें बढ़ रही हैं। दूसरी तरफ, राज्यों की तरफ से वसूले जाने वाले वैट की वजह से भी कीमतें लगातार बढ़ती जा रही हैं।
अगर पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के दायरे में लाया जाता है, तो इससे इन दोनों की कीमतें 50 रुपये के तहत आ सकती हैं। इससे केंद्रीय स्तर पर लगने वाली एक्साइज ड्यूटी और राज्यों की तरफ से वसूले जाने वालो वैट से आम आदमी को छुटकारा मिल जाएगा। जीएसटी के तहत इस पर परिषद ज्यादा से ज्यादा 28 फीसदी जीएसटी लगा सकती है।
इसके साथ ही ये भी संभव है कि सरकार कुछ एक्स्ट्रा सेस भी इसके साथ लगाए. हालांकि फिलहाल इसको लेकर कोई सहमति नहीं बनी है। इससे भले ही आम आदमी को राहत मिले, लेकिन राज्यों को इससे राजस्व में बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है। यही वजह है कि सभी राज्य इसके लिए अपनी सहमति देने में समय लगा रहे हैं।

नई दिल्ली - वैश्विक स्तर पर मजबूती के रुख तथा स्थानीय आभूषण कारोबारियों की मांग बढ़ने से सोमवार को सोना 225 रुपये चढ़कर 31,075 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। हालांकि, उपभोक्ता उद्योगों की छिटपुट मांग के बीच चांदी के भाव 39,900 रुपये प्रति किलोग्राम पर स्थिर रहे।राष्ट्रीय राजधानी में सोना 99.9 फीसदी और 99.5 फीसदी शुद्धता का भाव 225 रुपये की तेजी के साथ 31,075 और 30,925 रुपये…
पिछले हफ्ते बाजार पूंजीकरण (एमकैप) के लिहाज से देश की 10 शीर्ष मूल्यवान कंपनियों में निवेश करने वाले निवेशक मालामाल हो गए। इनमें छह कंपनियों का एमकैप सिर्फ एक सप्ताह में संयुक्त रूप से 1,07,370.4 करोड़ रुपये बढ़ा। इस तरह पिछले हफ्ते पांच कारोबारी दिनों में इन कंपनियों के निवेशकों ने 1.07 लाख करोड़ रुपये कमाए।टीसीएस-एचडीएफसी में सबसे ज्यादा कमाई:-पिछले हफ्ते निवेशकों को सबसे अधिक टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) में…
डिजिटल भुगतान में तेजी के बावजूद एटीएम से पैसा निकालने के लिए डेबिट कार्ड इस्तेमाल करने वालों की संख्या में कमी नहीं आई है। इसे देखते हुए पेटीएम पेमेंट बैंक ने भी डेबिट कार्ड देने की शुरुआत कर दी है। कंपनी ने अपने इस कार्ड पर लुभावने ऑफर की भी पेशकश की है।पहले से चल रही थी तैयारी:-पेटीएम भुगतान बैंक की मूल कंपनी पेटीएम और वन97 कम्यूनिकेशंस के संस्थापक विजय…
फेसबुक ने बुधवार को वॉट्सएप बिजनेस एप लॉन्च कर दी। यह बिजनेस एप छोटे व्यवसाय के लिए लॉन्च की गई है। वॉट्सएप के द्वारा इस पहल की शुरुआत सबसे पहले पिछले साल सितंबर में हुई थी। यह एप गूगल प्ले स्टोर से मुफ्त में डाउनलोड किया जा सकता है। फिलहाल ये एप इंडोनेशिया, इटली, मैक्सिको, यूके और यूएस में उपलब्ध होगा और आने वाले कुछ हफ्तों में यह भारत में…
Page 6 of 167

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें