कारोबार

कारोबार (2848)

नई दिल्ली:-केंद्र सरकार के प्रस्ताव से हवाई यात्रियों के जल्द अच्छे दिन आ सकते हैं। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के प्रस्ताव के अनुसार, टिकट रद्द कराने पर यात्रियों को ज्यादा पैसा वापस मिलेगा। साथ ही सफर के दौरान ज्यादा सामान ले जाने पर लिए जाने वाले शुल्क में भी कमी की जाएगी। इसके अलावा उड़ान के रद्द होने या विमान में चढ़ने से वंचित किए जाने पर दा मुआवजा मिलेगा। ये नियम प्रोमोशनल या विशेष छूटों के तहत जारी किए गए टिकटों समेत हर तरह के टिकट पर लागू होंगे।नागरिक उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू ने शनिवार को संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि नए प्रस्ताव के तहत किसी भी स्थिति में एयरलाइंस मूल किराये से ज्यादा कैंसिलेशन (रद्दीकरण )शुल्क नहीं वसूल पाएंगे। वे शुल्क वापसी की प्रक्रिया के नाम पर भी कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लेंगे। टिकट रद्द कराने या किसी भी कारण से यात्री के समय पर नहीं पहुंचने की स्थिति में भी ये निमय लागू होंगे।इसके अलावा हर स्थिति में शुल्क वापसी की जिम्मेदारी एयरलाइंसों पर डालते हुए इसके लिए अधिकतम समय सीमा भी तय की गई है। देश में विमान सेवा देने वाली विदेशी कंपनियों के मामले में उनके देश के कानून उन पर लागू होंगे, हालांकि रिफंड के तरीके और समयावधि भारतीय कानून के अनुसार होगी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि नियमों में बदलाव के लिए प्रारूप तैयार करने से पहले सभी घरेलू विमानन सेवा कंपनियों से विचार-विमर्श किया गया था और वे इन पर कमोबेश सहमत हैं। इन पर 15 दिन के भीतर यात्रियों तथा अन्य संबद्ध पक्षों के सुझाव मांगे गए हैं। इसके बाद अगले 15 दिन के भीतर नियम लागू कर दिए जाएंगे।

15 दिन में रिफंड:-राजू ने बताया कि घरेलू यात्रा के लिए बुक कराई गई टिकटों का रिफंड 15 दिन के भीतर तथा अंतरराष्ट्रीय यात्रा की टिकटों का रिफंड 30 दिन के भीतर देना अनिवार्य करने का भी प्रस्ताव है। फिलहाल, ट्रैवल एजेंटों या पोर्टलों के माध्यम से टिकट बुक कराने पर यात्री रिफंड के लिए इन पर निर्भर होते हैं। अब इसके लिए सीधे एयरलाइंस को जिम्मेदार बनाया जाएगा क्योंकि ये एजेंट उनके द्वारा नियुक्त प्रतिनिधि हैं। यात्री रिफंड नकद में चाहते हैं या फिर क्रेडिट, इसका फैसला वे खुद कर सकेंगे।

10 हजार तक मुआवजा:-उड़ान भरने के 24 घंटे पहले टिकट रद्द होता है तो मुआवजा राशि 10000 रुपये तक हो सकती है। विशेष परिस्थितियों में या क्षमता से अधिक बुकिंग कराने और बाद में यात्री को सीट नहीं देने पर मुआवजा राशि 20 हजार रुपये तक हो सकती है। उड़ान के तय समय से एक घंटे के अंदर उड़ान भरने वाले दूसरे विमान में सीट देने की स्थिति में यात्री को कोई मुआवजा नहीं मिलेगा। अभी यात्रियों को उड़ान में देरी पर 2 हजार से 4 हजार रुपये का मुआवजा मिलता है।

अतिरिक्त सामान पर शुल्क में कमी:-15 किलोग्राम से अधिक के सामान पर पहले पांच किलोग्राम तक के लिए अधिकतम शुल्क 100 रुपये प्रति बैगेज तय किया गया है। अभी तक 15 किलोग्राम से ज्यादा सामान पर एयरलाइंस 300 रुपये प्रति किलोग्राम तक वसूल करती हैं। नया नियम 15 जून से प्रभावी हो जाएगा। घरेलू उड़ान में एयर इंडिया 25 किलोग्राम तक सामान मुफ्त में ले जाने की इजाजत देती है। अंतरराष्ट्रीय उड़ान में 46 किलो तक ले जा सकते हैं।

दिव्यांगों के लिए सुविधा बढ़ेगी:-दिव्यांग यात्रियों के लिए स्टे्रचर तथा संबंधित उपकरणों की व्यवस्था करने के लिए अनुरोध की प्रक्रिया एयरलाइंसों को अपनी वेबसाइट पर दिखाने को कहा गया है। विमान सेवा कंपनियों, हवाई अड्डा संचालकों, सुरक्षा एजेंसियों, कस्टम एवं आव्रजन से दिव्यांगों की किस प्रकार मदद करनी है, इसके लिए यात्री सेवा में शामिल अपने कर्मचारियों को प्रशिक्षण देने के लिए भी कहा गया है। जिन हवाई अड्डों पर एंबुलिफ्ट या एयरोब्रिज नहीं हैं, वहां चल रैंप की व्यवस्था करना जरूरी होगा।

इन कंपनियों की उड़ानों में देरी :-(आंकड़े इस साल जनवरी-मार्च के दौरान के)

18512 उड़ानों में भारतीय एयरलाइंनों ने देरी की

5426 उड़ानों में देरी इंडिगो ने की

5040 उड़ान में जेट एयरलाइन

3111 उड़ान देर हुई एयर इंडिया की

2205 उड़ाने देर हुई स्पाइसजेट की

मुंबई:-प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आईडीबीआई बैंक के रिण चूक मामले में शराब कारोबारी विजय माल्या की 1,411 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की है।प्रवर्तन निदेशालय के एक अधिकारी ने कहा, हमने मनी लांड्रिंग रोधक कानून के तहत विजय माल्या और यूबी लि़ की 1,411 करोड़ रुपये (बाजार मूल्य के हिसाब से) की संपत्तियां कुर्क की हैं।माल्या की अस्थायी रूप से कुर्क संपत्तियों में 34 करोड़ रुपये की बैंक जमा, बेंगलुर और मुंबई में एक-एक फ्लैट (2,291 वर्ग फुट तथा 1,300 वर्ग फुट), चेन्नई में एक औद्योगिक प्लाट (4.5 एकड़), कुर्क में एक कॉफी बागान (28.75 एकड़), यूबी सिटी में एक आवासीय तथा वाणिज्यिक निर्मित क्षेत्र तथा बेंगलुर में किंगफिशर टावर (84,0279 वर्ग फुट) शामिल है।इन संपत्तियों की कुर्की आईडीबीआई बैंक के 900 करोड़ रुपये के रिण चूक या डिफाल्ट मामले में की गई है। माल्या की ठप विमानन कंपनी किंगफिशर एयरलाइंस पर विभिन्न बैंकों का 9,000 करोड़ रुपये से अधिक का बकाया है। माल्या दो मार्च को भारत से बाहर चले गए थे।एजेंसी ने सीबीआई द्वारा पिछले साल दायर एफआईआर के आधार पर माल्या और अन्य के खिलाफ मनी लांड्रिंग का मामला दायर किया है। एजेंसी किंगफिशर एयरलाइंस के वित्तीय ढांचे की भी जांच कर रही है और यह भी पता लगा रही है कि कर्ज हासिल करने के लिए कहीं रिश्वत तो नहीं दी गई थी।इसके अलावा एजेंसी माल्या को घोषित अपराधी घोषित करवाने के लिए विशेष अदालत भी गई है। एजेंसी ने इससे पहले सभी उपाय मसलन इंटरपोल का गिरफ्तारी वारंट तथा माल्या का पासपोर्ट रद्द करने जैसे उपाय कर लिए है।माल्या को ब्रिटेन से भारत प्रत्यर्पित करने के लिए प्रवर्तन निदेशालय भारत-ब्रिटेन आपसी कानूनी सहयोग संधि (एमएलएटी) का भी इस्तेमाल करने का प्रयास कर रहा है।

फेसबुक मैसेंजर पर एक ऐसा बग मिला है जो किसी हैकर को चैट में बदलाव करने की अनुमित देता है। इस बग के जरिए चैट में भेजी गई तस्वीरें, वीडियो और लिंक को भी बदला जा सकता है। यह बग फेसबुक मैसेंजर के 90 करोड़ उपयोगकर्ताओं को प्रभावित कर सकता है। इस बग की खोज साइबर सुरक्षा पर काम करने वाली कंपनी ‘चेक प्वाइंट’ ने की है। फेसबुक ने अपनी साइट में खामियां निकालने के लिए बग बाउंटी नाम का एक प्रोग्राम चलाया है। इसके तहत फेसबुक की खामी निकालने वाले को कंपनी की तरफ से इनाम दिया जाता है। फेसबुक ने अपनी साइट में बग खोजने वालों को कई करोड़ रुपये दिए हैं।

नई दिल्ली:-व्हाट्सएप यूजर के लिए खुशखबरी है। अब इस इंस्टेंट मैसेजिंग एप पर जीआईएफ इमेज भी भेजी जा सकेंगी। यह जानकारी व्हाट्सएप के बीटा वर्जन पर नजर रखने वाले एक ट्विटर अकाउंट से पोस्ट की गई है।Changelog of #WhatsApp #beta for #iOS 2.16.7.1 is available now!https://t.co/yHrYkvUBOm #GIF #GifSupport #HOTNEWS #whatsappbeta— WABetaInfo (@WABetaInfo) June 7, 2016 फिलहाल व्हाट्सएप ने इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं की है। यह फीचर सबसे पहले आईओएस यूजर के लिए व्हाट्सएप के बीटा वर्जन पर उपलब्ध कराया जाएगा।जीआईएफ इमेज चलती फिरती तस्वीरों को कहा जाता है जो कुछ सेकेंड के वीडियो की तरह होती हैं। व्हाट्सएप पर कंपनी वीिडयो कॉलिंग फीचर भी जल्दही उपलब्ध करा सकती है। 

सैन फ्रांसिस्को:-डार्क वेब एक ऐसी जगह जहां सिर्फ खास सॉफ्टवेयर से ही मिलती है एंट्री। यहां हो रही है ट्विटर के 3.2 करोड़ अकाउंट के पासवर्ड की बिक्री। यानी वेब ब्राउजर प्रोग्राम से हटाए गए चोरी के लाखों टि्वटर अकाउंट्स को ऑनलाइन बिक्री के लिए रखा गया है। लीक डेटा से संबंधी एक सर्च इंजन ने यह जानकारी दी।बहरहाल, टि्वटर किसी भी तरह की जानकारी लीक होने या इंटरनेट पर बेजे जाने की बात से इनकार कर रहा है।ट्विटर ने कहा कि हैकरों ने उसकी कम्प्यूटर प्रणाली में घुसपैठ नहीं की और ना ही इंटरनेट पर बेचे जा रहे अकाउंट संबंधी किसी सूचना का वह स्रोत हैं। प्रवक्ता ने बताया कि हमें विश्वास है कि ये यूजर नेम्स और अकाउंट्स टिवटर के डेटा से नहीं लिए गए और ना ही हमारे सिस्टम्स में सेंध मारी गई।प्रवक्ता ने बताया, लिहाजा, हमलोग तो हाल में लीक हुए पासवर्ड से जो कुछ भी साझा किया गया था उसके खिलाफ अपने डाटा की जांच कर अकाउंट्स को सुरक्षित रखने में मदद के लिए काम कर रहे हैं। लीक्डसोर्स डॉट कॉम के अनुसार लाखों टि्वटर अकाउंटस को डार्क वेब पर बेचा जा रहा है। डार्क वेब इंटरनेट का एक वर्ग है जिस तक विशेष सॉफ्टवेयर की मदद से पहुंच बनाया जा सकता है।बताया जा रहा है कि इस डेटा सेट में 3.2 करोड़ से भी अधिक टि्वटर अकाउंट्स के डिटेल हैं। इनमें यूजरनेम, पासवर्ड या ईमेल एड्रेस से जुड़ी जानकारियां शामिल हो सकती हैं। लीक्डसोर्स ने एक ब्लॉग पोस्ट में दावा किया है कि उसके पास डेटा सेट की एक प्रति है और उसने यह भी कहा कि ये डेटा सेट टि्वटर यूजर्स के हैं न कि सान फ्रांसिस्को की मेसेजिंग सेवा कंपनी के।

कैलिफोर्निया:-इंटरनेट का दूसरा नाम बन चुके सर्च इंजन गूगल के सहसंस्थापक लैरी पेज अब फ्लाइंग कार बनाने में जुटे हैं। उन्होंने इसके लिए दो स्टार्टअप जी एरो और किटी हॉक में दस करोड़ डॉलर का निवेश किया है। ये दोनों ही कंपनियां हवा में उड़ने के साथ सीधे जमीन पर उतर सकने वाली फ्लाइंग कार बना रहे हैं।ब्लूमबर्ग बिजनेसवीक के मुताबिक, यह विद्युतचालित कार अगले कुछ वर्षों में हकीकत बन जाएगी। जी एरो की स्थापना 2010 में हुई थी। कैलिफोर्निया के सिलिकन वैली में गूगल या उसकी प्रवर्तक कंपनी एल्फाबेट के ठीक निकट कार्यालय के कारण पहले माना जा रहा था कि यह उसकी सहयोगी कंपनी है, मगर जी एरो ने इससे इनकार किया है। कंपनी के 150 से ज्यादा इंजीनियर होलिस्टर में एयरपोर्ट के निकट फ्लाइंग कार के प्रोटोटाइप के लगातार परीक्षण कर रहे हैं। वर्ष 2015 में किटी हाॠक भी इस होड़ में शामिल हुई। इसमें भी लैरी पेज ने निवेश किया है। जी एरो ने 2011 में ऐसी ही फ्लाइंग कार का डिजाइन पेटेंट कराया था, जो पुरानी कारों जैसी ही दिखती है।  

गूगल एक्स के प्रमुख भी योजना से जुड़े:-दिलचस्प बात है कि किटी हाॠक के अध्यक्ष सेबेस्टियन थ्रुन हैं, जो गूगल की सेल्फ ड्राइविंग कार योजना के भी प्रमुख हैं। वह कंपनी की शोध शाखा गूगल एक्स के संस्थापक भी हैं। हालांकि गूगल या पेज इस बारे में कुछ बताने को तैयार नहीं हैं। एरोमोबिल, टेरीफुगिया जैसी कंपनियां भी फ्लाइंग कार पर काम कर रही है। 

डिजाइन को रखा गया है गोपनीय:-जी एरो ने अपनी कार का डिजाइन, तकनीक आदि का ब्योरा काफी गोपनीय रखा है। खबरों के मुताबिक, जी एरो ने नासा, बोइंग, स्पेसएक्स जैसी दिग्गज कंपनियों से एयरोस्पेस डिजाइनरों को अपनी टीम में शामिल किया है। नासा के इंजीनियर मार्क मूर ने कहा कि पिछले कुछ सालों में तकनीक में काफी बदलाव आया है और इससे सस्ती, सुरक्षित फ्लाइंग कार बनाना आसान हो गया है। हैरी पाॠटर समेत हाॠलीवुड की कई फिल्मों में ऐसी उड़ती कारें नजर आई हैं।

गूगल के इरादे:-रोबोट आर्मी तैयार कर रहा गूगल,सेल्फ ड्राइविंग कार बनेगी हकीकत

-वर्जिन और स्पेसएक्स की तरह अंतरिक्ष में भी पैर जमाने की कोशिश

-माॠड्यूलर फोन बना रहा गूगल, यानी विशेष कामों के लिए विशेष फोन

-अमर होने की गुत्थी भी सुलझा रहा,थ्रीडी मैपिंग प्रोजेक्ट पर भी काम

-गूगल स्मार्ट कांटैक्ट लेंस और पर्किन्सन जैसी गंभीर बीमारियों पर शोध

-इंटरनेट बैलून और विंड टरबाइन प्रोजेक्ट में भी गूगल ने किया निवेश

नई दिल्ली:-युवाओं में सेल्फी लेने और उसे सोशल मीडिया साइटों पर पोस्ट करने का क्रेज लगातार बढ़ता जा रहा है। फोटो अच्छी आए तो दोस्तों के ‘लाइक’ और ‘कमेंट’ मिलने की संभावना भी बढ़ जाती है। अगर आप अपने स्मार्टफोन से खींची गई तस्वीरों से नाखुश हैं तो फिक्र छोड़िए। कुछ खास एप्लीकेशन के जरिए आप तस्वीरों में बेहतरीन इफेक्ट डाल सकते हैं। हाल ही में गूगल ने एक ऐसा…
ओमाहा (अमेरिका):-अरबपति वारन बफे ने सैन फ्रांसिस्को के बेघर लोगों की मदद के लिए धन जुटाने के संबंध में एक बार फिर से अपने साथ दोपहर के भोजन की दावत नीलामी की है और इस बार सबसे अधिक बोली 34 लाख डॉलर की है। कल एक व्यक्ति ने रिकॉर्ड 34,56,789 डॉलर की बोली लगाई जो अपना नाम जाहिर नहीं करना चाहता। 2012 में इस विजेता ने परोपकार के लिए ईबे…
नई दिल्ली:-कॉल ड्रॉप पर लगाम के लिए भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने सरकार से उसे अधिक अधिकार दिए जाने की मांग की है। नियामक ने सरकार से कानून में संशोधन कर उसे नियामकीय व्यवस्थाओं के उल्लंघन के मामले में मोबाइल ऑपरेटरों पर 1 करोड़ रुपये तक का जुर्माना लगाने तथा कंपनी के कार्यकारियों को दो साल तक की जेल की सजा दिलाने का अधिकार दिए जाने की अपील की…
कानपुर:-बीस साल बाद बाजार में आए एक रुपए के खरे-खरे नोट फिर गायब हो गए है। एक साल के अंदर उनकी छपाई फिर बंद कर दी गई है। दिवाली के बाद एक के नए नोट आरबीआई ने रिलीज नहीं किए हैं। पिछले साल छह मार्च को एक रुपए के नए नोट जारी किए गए थे। बीस साल बाद एक के नोट बाजार में आए तो मारामारी मच गई।आरबीआई से बैंकों…

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें