कारोबार

कारोबार (2560)

नई दिल्लीः वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने आज भारत और यूरोपीय संघ (ईयू) के बीच लंबे समय से अटके मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) पर फिर से वार्ता शुरू होने के संकेत दिए। केंद्रीय मंत्री ने यहां भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के कार्यक्रम में कहा, हमने भारत- ईयू एफटीए पर दोबारा काम शुरू किया है। हमने उन्हें आमंत्रित किया है और इस पर विचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 2013 और 16 चरणों की चर्चा के बाद भी वार्ता आगे नहीं बढ़ी।भारत और यूरोपीय संघ के मुख्य वार्ताकारों ने पिछले साल यहां प्रस्तावित व्यापार समझौते पर वार्ता की। इसे आधिकारिक तौर पर द्विपक्षीय व्यापार एवं निवेश समझौते (बीटीआईए) के रूप में वर्णित किया गया। समझौते को लेकर दोनों पक्षों ने समयबद्ध तरीके से काम करने की इच्छा व्यक्त की। समझौते के लिए वार्ता मई 2013 से जारी है लेकिन दोनों पक्षों के बीच महत्वपूर्ण मुद्दों पर उपजे मतभेद अभी तक नहीं सुलझ सके हैं। प्रस्तावित बीटीआईए पर वार्ता के दौरान कई बाधाएं सामने आईं। दोनों पक्षों के बीच प्रमुख मुद्दों जैसे बौद्धिक संपदा अधिकार, वाहनों और स्प्रिट पर शुल्क में कटौती और उदारवादी वीजा व्यवस्था पर मतभेद हैं। यूरोपीय संघ वाहनों पर शुल्क में कटौती के साथ शराब, स्प्रिट और डेयरी उत्पादों पर कर कटौती और मजबूत बौद्धिक संपदा अधिकार व्यवस्था चाहता है। वहीं, दूसरी ओर भारत चाहता है कि यूरोपीय संघ उसे डेटा सुरक्षित देश का दर्जा दे।भारत और यूरोपीय संघ के बीच द्विपक्षीय व्यापार गिरकर 2015-16 में 88.4 अरब डॉलर रहा, जो कि उससे पहले के वित्त वर्ष में 98.5 अरब डॉलर था। वैश्विक स्तर पर बढ़ते संरक्षणवाद को लेकर प्रभु ने कहा कि विभिन्न देश अपनी स्थितियों और रणनीतियों की फिर से समीक्षा कर रहे हैं लेकिन भारत ने अपने व्यापारिक साझेदारों के साथ सकरात्मक संबंध स्थापित करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा, हमने एक ऐसा देश बनना तय किया है कि जो अपने सभी पारंपरिक मित्रों से जुड़े रहने के साथ नए दोस्त बनाना शुरू करेगा।

मुंबईः मोबाइल इंटरनेट डाउनलोड स्पीड के मामले में भारत को विश्व भर में 109वां स्थान मिला है। एक रिपोर्ट में आज यह बात कही गई। भारत विश्व का सबसे बड़ा मोबाइल डेटा उपभोक्ता है। ऊक्ला के स्पीडटेस्ट सूचकांक के अनुसार, देश में मोबाइल इंटरनेट की औसत डाउनलोड स्पीड पिछले साल नवंबर के 8.80 एमबीपीएस से बढ़कर इस साल फरवरी में 9.01 एमबीपीएस पर पहुंच गई।हालांकि, इसके बाद भी देश की रैंकिंग में कोई बदलाव नहीं हुआ और भारत 109वें स्थान पर ही बरकरार रहा। नॉर्वे 62.07 एमबीपीएस की औसत स्पीड के साथ पहले स्थान पर रहा। नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने दिसंबर में दावा किया था कि देश 150 करोड़ गीगाबाइट खपत के साथ विश्व का सबसे बड़ा डेटा उपभोक्ता है। उन्होंने कहा था कि यह अमेरिका और चीन की संयुक्त खपत से अधिक है।ऊक्ला सूचकांक के अनुसार देश ने ब्राडबैंड के मामले में बेहतर प्रदर्शन किया है। इस लिहाज से देश पिछले साल के 76वें स्थान की तुलना में इस साल फरवरी में 67वें स्थान पर आ गया। सूचकांक में बताया गया कि ब्राडबैंड स्पीड पिछले साल नवंबर के 18.82 एमबीपीएस से बढ़कर इस साल फरवरी में 20.72 एमबीपीएस पर पहुंच गई है। इस मामले में 161.53 एमबीपीएस स्पीड के साथ सिंगापुर पहले स्थान पर है। उसने कहा कि अधिक आबादी वाले देशों में ब्राडबैंड स्पीड में भारत में सर्वाधिक वृद्धि हुई है।

नई दिल्लीः अमेरिका और चीन के बीच जारी तनातनी के कारण सोने के लगभग 15 माह के उच्चतम स्तर पर पहुंचने से शुरू हुई मुनाफावसूली के दबाव में आज दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 35 रुपए लुढ़ककर 31,800 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। औद्योगिक मांग घटने से चांदी भी 100 रुपए की गिरावट में 39,500 रुपए प्रति किलोग्राम पर आ गई।दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर के कमजोर पड़ने से भी पीली धातु को बल मिला है लेकिन निवेशक इसकी कीमतों में आई जबरदस्त तेजी को भुनाने में जुट गए हैं जिससे इसकी चमक फीकी पड़ी है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सोना हाजिर 0.50 डॉलर फिसलकर 1,347.40 डॉलर प्रति औंस पर आ गया। अप्रैल का अमेरिकी सोना वायदा भी 3.5 डॉलर प्रति औंस की गिरावट में 1,346.30 डॉलर प्रति औंस बोला गया। विदेशों में चांदी हाजिर भी 0.50 डॉलर की गिरावट में 16.56 डॉलर प्रति औंस पर आ गई।

 

नई दिल्लीः करोड़ों रुपए के घोटाले के आरोपी नीरव मोदी की कंपनी फायरस्टार डायमंड की दिवालिया प्रक्रिया में पंजाब नैशनल बैंक भी हिस्सा लेना चाहता है। सूत्रों के अनुसार बैंक रिकवरी के लिए सभी विकल्पों पर विचार कर रहा है और इसमें फायरस्टार की दिवालिया प्रक्रिया में हिस्सा लेना भी शामिल है। सूत्रों के मुताबिक, बैंक इस मुद्दे को आगे उठाने के लिए लीगल एक्सपर्ट्स को हायर करने की प्रक्रिया में है। जल्द ही लीगल फर्म को हायर किया जा सकता है। इसके कई फायदे और नुकसान पर चर्चा की जा रही है। हालांकि, पी.एन.बी. ने इस मुद्दे पर अभी कॉमेंट करने से इनकार किया है। पिछले महीने फायरस्टार डायमंड ने न्यूयॉर्क कोर्ट में दिवालिया अर्जी दायर की है।
नीरव और मेहुल ने एलओयू से की धोखाधड़ी:-हीरा कारोबारी नीरव मोदी और उनके मामा मेहुल चौकसी ने भारत के दूसरे सबसे बड़े सरकारी बैंक में धोखाधड़ी वाले लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (एलओयू) के जरिए 12,968 करोड़ रुपए का घोटाला किया। पी.एन.बी. के मुंबई स्थित ब्रैडी हाउस ब्रान्च के कुछ अधिकारियों के साथ मिलकर इसे अंजाम दिया। पी.एन.बी. की इस ब्रांच से मार्च 2011 से नीरव की कंपनियों को गलत तरीके से एलओयू जारी किए ग्‍ए थे। सी.बी.आई. और ईडी सहित कई एजेंसियां देश के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले की जांच में जुटी हैं।

 

 

 

नई दिल्लीः देश में लोगों व कंपनियों पर 11.50 लाख करोड़ रुपए का भारी भरकम कर बकाया है यानी देश के सालाना बजट की 47 फीसदी से अधिक राशि बकाया कर के रूप में फंसी है और यह लगातार बढ़ रही है। संसद की एक समिति ने इन हालात पर चिंता जताते हुए सरकार से कहा है कि वह इस बकाए कर की जल्द वसूली के लिए उपाय करे क्योंकि ऐसा लगता है कि राजस्व विभाग बकाया कर के दुष्चक्र में फंसता जा रहा है।वित्त संबंधी स्थाई समिति की ताजा रिपोर्ट के अनुसार इस समय 11.50 लाख करोड़ रुपए का कर बकाया है, जो कि किसी अर्थव्यवस्था के आकार के बराबर की राशि है। उल्लेखनीय है कि 2018-19 के लिए देश का कुल बजट 24.42 लाख करोड़ रुपए का है। इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि बकाया कर के मद में कितनी बड़ी राशि फंसी है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार कुल बकाया कर में 9,30,741 करोड़ रुपए प्रत्यक्ष कर मद में तथा 2,28,530 करोड़ रुपए अप्रत्यक्ष कर मद में बकाया हैं। समिति के अनुसार इससे भी बड़ी चिंता की बात यह है कि इसमें से ज्यादातर कर की वसूली होती नजर नहीं आ रही। आंकड़ों में प्रत्यक्ष कर मद में 94 प्रतिशत से अधिक कर की वसूली मुश्किल वाली श्रेणी में रखी गई है। वहीं अप्रत्यक्ष कर में केवल 22.84 प्रतिशत के बारे में ही स्पष्ट रूप से कहा गया है कि उसकी वसूली की जा सकती है। डा. एम. वीरप्पा मोइली की अध्यक्षता वाली इस समिति ने हालात पर चिंता जताते हुए सरकार को सलाह दी है कि बकाए कर की वसूली के लिए कोई ठोस कार्य योजना बनाई जाए तथा समयबद्ध वसूली की रूप-रेखा तैयार हो।

नई दिल्लीः बीमा क्षेत्र के नियामक भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (इरडा) ने विभिन्न बीमा पालिसियों के साथ 12 अंकों का आधार नंबर जोडऩे के लिए समयसीमा को उच्चतम न्यायालय का निर्णय आने तक बढ़ा दिया है। उच्चतम न्यायालय ने इस संबंध में दायर रिट याचिका को लेकर 13 मार्च को दिए आदेश में विभिन्न योजनाओं के साथ आधार नंबर जोडऩे की समयसीमा को इस संबंध में अंतिम सुनवाई होने और फैसला आने तक के लिए बढ़ा दिया है। उच्चतम न्यायालय के इसी आदेश को देखते हुए इरडा ने बीमा पालिसियों के साथ आधार संख्या जोड़े जाने की समयसीमा को 31 मार्च से आगे अनिश्चित काल तक के लिए बढ़ा दिया है।बीमा नियामक ने बीमा कंपनियों को जारी किए गए एक सर्कुलर में कहा, ‘‘मौजूदा बीमा पालिसियों के मामले में इनके साथ आधार संख्या को जोडऩे की अंतिम तिथि इस मामले की उच्चतम न्यायालय में सुनवाई पूरी होने और फैसला सुनाए जाने तक के लिए बढ़ाई जाती है।’’ जहां तक नई बीमा पालिसी की बात है, बीमा पॉलिसी खरीदार को उसका खाता शुरू होने से लेकर 6 माह के भीतर अपनी आधार संख्या, पैन अथवा फार्म 60 को बीमा कंपनी में जमा कराना होगा। बीमा नियामक ने कहा है, ‘‘आधार संख्या नहीं होने की स्थिति में ग्राहक को मनी- लांड्रिेंग रोधी (रिकार्ड का रखरखाव) नियम 2005 में दर्ज किए गए किसी भी वैध दस्तावेज को सौंपा जा सकता है।’’ नियमों के तहत प्रवासी भारतीय पालिसी धारक को आधार नंबर नहीं होने की वजह से अपनी पॉलिसी लौटाने की आवश्यकता नहीं है। आधार नंबर नहीं होने की स्थिति में प्रवासी भारतीय, भारतीय मूल का व्यक्ति, विदेशी नागरिकता प्राप्त भारतीय मनी लांड्रिंग रोधी कानून में बताए गए किसी भी वैध दस्तावेज को जमा करा सकते हैं।

नई दिल्लीः रोजमर्रा की उपभोक्ता वस्तु बनाने वाली प्रमुख कंपनी आईटीसी का आशीर्वाद आटा 4,000 करोड़ रुपए का ब्रांड बन गया है तथा ब्रांडेड आटा बाजार में इसकी हिस्सेदारी 28 प्रतिशत हो गई है। आईटीसी अब आशीर्वाद ब्रांड का विस्तार करते हुए नए खंडों मसलन डेयरी मिल्क और घी के अलावा मसाला, इंस्टेंट मिक्स और रेडी मील भी बाजार में लेकर आई है। आईटीसी के खाद्य कारोबार के डिवीजनल मुख्य…
नई दिल्लीः यूजर्स की निजी जानकारियों के दुरुपयोग के मामले में घिरी सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और सह संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने इस पूरे विवाद में गत सप्ताह करीब 10 अरब डॉलर गंवाए हैं और वह फोर्ब्स की अरबपतियों की सूची में पांचवें स्थान से फिसलकर सातवें स्थान पर आ गए हैं।16 मार्च को हुआ खुलासा:-अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को चुनाव जीतने में मदद करने…
न्यूयॉर्कः सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक की मुसीबतें इसके उपयोगकर्ताओं की जानकारियों के दुरुपयोग का मामला सामने आने के बाद कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। विवाद सामने आने के बाद इस सप्ताह कंपनी के शेयर 14 प्रतिशत गिरे हैं। इस बीच मोजिला, कॉमर्जबैंक, टेस्ला, स्पेसएक्स समेत कई बड़ी कंपनियों ने भी फेसबुक से फिलहाल किनारा कर लिया है।एलन मस्क ने बंद किए फेसबुक पेजटेस्ला और स्पेसएक्स जैसी कंपनियों…
जालंधरः यदि आपने अपने आधार कार्ड की जानकारी किसी दुकान या कंपनी में दे रखी है तो सावधान हो जाएं। आधार कार्ड को लेकर अब नई खामी सामने आई है। जिसके कारण डाटा सुरक्षा, साइबर सुरक्षा और यूजर्स डाटा प्राइवेसी एक बार फिर चर्चा का केंद्र बन गई है। न्यूयॉर्क की बिजनेस टेक्नोलॉजी वैबसाइट ZDNet ने अाधार डाटा बेस के लीक होने का खुलासा किया है। ZDNet ने भारत के…
Page 9 of 183

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें