कारोबार

कारोबार (2750)

हाल ही में मैसेजिंग एप व्हाट्सएप ने अपने डिवाइस सपोर्ट पेज पर एक अपडेट जारी किया है और इसमें जानकारी दी गई है कि साल 2018 के अंत तक और आने वाले दिनों में कौन-कौन से डिवाइस/ स्मार्टफोन पर ये एप सपोर्ट नहीं करेगा। इस साल कि शुरुआत में भी व्हाट्सएप ने कुछ स्मार्टफोन को सपोर्ट करना छोड़ दिया है। इसके पीछे व्हाट्सएप का कहना है कि ये स्मार्टफोन और इनके ऑपरेटिंग सिस्टम में एप के जरुरत और नए अपडेट लेने के लिए तैयार नहीं है। आने वाले वक्त में ये एप के नए फीचर को सपोर्ट नहीं कर पाएंगे।ऐसे में कंपनी ने एक और अपडेट जारी किया है और बताया है कि इस साल के अंत में आखिर कौन-कौन से स्मार्टफोन है जिनपर यूजर व्हाट्सएप नहीं चला पाएंगे। साथ ही उन समार्टफोन की भी जानकारी जिसपर अब व्हाट्सएप सपोर्ट बंद कर दिया गया है।व्हाट्सएप इस साल के अंत में नोकिया के S40 प्लेटफॉर्म पर काम करने वाले सभी स्मार्टफोन पर काम करना बंद कर देगा। इस प्लेटफॉर्म पर नोकिया आशा सीरीज के स्मार्टफोन काम करते हैं जो इस साल तक व्हाट्सएप सपोर्ट नहीं करेंगे। हालांकि अभी ही इन फोन पर व्हाट्सएप डाउनलोड नहीं किया जा सकता, ना ही इसपर चल रहे व्हाट्सएप अकाउंट को रि-वैरिफाई किया जा सकता है।जो यूजर एंड्रॉयड 2.3.7 जिंजरब्रेड ओएस वाले स्मार्टफोन इस्तेमाल करते हैं उनके लिए राहत की खबर ये है कि अगले दो साल तक वे व्हाट्सएप का इस्तेमाल कर सकेंगे . कंपनी ने बताया है कि साल 1 फरवरी 2020 तक इस प्लेटफॉर्म पर ये सपोर्ट बंद किया जाएगा।इसके साल ही इस साल के अंत में नोकिया के सिंबियन प्लेटफॉर्म S6 पर भी व्हाट्सएप सपोर्ट नहीं किया जाएगा। व्हाट्सएप ने एंड्रॉयड 2.1 (इक्लेयर) और एंड्रॉयड 2.2 (फ्रोयो) पर भी सपोर्ट करना बंद कर दिया है।आईफोन की बात करें तो व्हाट्सएप अब आईफोन 3GS और iOS 6 पर चले वाले फोन को सपोर्ट नहीं करता। जो यूजर्स विंडोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम 8.0 या उससे पुराने ओएस वाला फोन इस्तेमाल करते हैं उनके लिए भी व्हाट्सएप सपोर्ट बंद कर दिया गया है।यूजर जो ब्लैबेरी के ऑपरेटिंग सिस्टम पर ब्लैकबेरी 10 या उससे पुराने ओएस वाले फोन का इस्तेमाल कर रहे हैं उनके लिए भी व्हाट्सएप सपोर्ट बंद कर दिया गया है इस साल जनवरी महीने से इसपर सपोर्ट बंद किया गया है।

आए दिन सभी टेलिकाॅम कंपनियो के बीच डाटा प्लान को लेकर युद्ध छिड़ रहा है। रिलायंस जियो को कड़ी टक्कर देने के लिए अन्य सभी टेलिकाॅम कंपनियां बेस्ट डाटा आॅफर्स दे रही है।एक बार फिर जियो को टक्कर देने के लिए भारतीय एयरटेल ने अपने 99 रुपये के प्लान को रिवाइज किया है। नए पैक में अब यूजर्स को 2 जीबी डेटा दिया जाएगा जिसकी वैधता 28 दिनों के लिए होगी।अब तक इस प्लान में एयरटेल 1 जीबी का डेटा दिया करता था। एयरटेल की तरह ही जियो ने भी 98 रुपये का पैक रिवाइज किया है जिसके जवाब में अब एयरटेल भी इस प्लान में ज्यादा डेटा दे रहा है।एयरटेल का प्लान डेटा के साथ ही 100 मैसेज भी हर दिन देता है। हालांकि इसमें वॉयस कॉल को जगह नहीं दी गई है। यानी ये सिर्फ डेटा और मैसेज प्लान है इसमें फ्री कॉल नहीं कर सकेंगे।जानकारी के अनुसार, इस पैक में कॉल की भी सुविधा नहीं दी जा रही है इसमें हर दिन 2 जीबी डेटा और 100 मैसेज दिए जाएंगे ऐसे में कुल 56 जीबी डेटा 99 रुपये में एयरटेल दे रहा है।जियो की अगर बात करें तो 98 रूपये के पैक में हर दिन 2 जीबी डेटा, अनलिमिटेड वॉयस कॉल्स के साथ 300 SMS की भी सुविधा दे रहा है। एयरटेल के मुकाबले जियो में मिलने वाला मैसेज कम है। एयरटेल 99 रुपये में 2500 मैसेज जियो से ज्यादा दे रहा है। जियो के प्लान में यूजर को अनलिमिटेड कॉल मिलेगी।एयरटेल ने हाल ही में अपने 149 रुपये वाले प्लान को रिवाइज किया था। इस प्लान में हर दिन 2 जीबी डेटा और अनलिमिटेड कॉल 28 दिनों के लिए यूजर को दिया जा रहा है।एयरटेल ने हाल ही में अपने इस प्लान को रिवाइज किया है। अब इस प्लान में 2.4 जीबी डेटा हर दिन 84 दिनों के लिए दिया जाता है। हालांकि ये चुनिंदा ग्राहकों के लिए है। इसके साथ ही प्लान में अनलिमिटेड कॉल, मैसेज भी दिए जा रहे हैं। कुल मिलाकर इस प्लान में एयरटेल 201 जीबी डेटा देता है।

सभी टेलिकाॅम कंपनियां अपने ग्राहकों के लिए बेस्ट फीचर्स के स्मार्टफोन पेश कर रहे है। हैंडसेट-निर्माता माइक्रोमैक्स ने शुक्रवार को नया ‘कैनवस 2 प्लस’ स्मार्टफोन 8,999 रुपये में लांच किया।
-इस स्मार्टफोन में 18:9 का स्क्रीन रेशियो,
-8 मेगापिक्साल का सेल्फी कैमरा,
-13 मेगापिक्सल का पिछला कैमरा,
-3 जीबी का डबल डेटा रेट टाइप थ्री (डीडीआर3) रैम,
-32 जीबी मेमोरी,
-फेस-अनलॉक फीचर,
-फिंगर प्रिंट सेंसर के साथ 22 क्षेत्रीय भाषाओं में काम करने की सुविधा दी गई है।
-यह फोन एंड्रायड नूगा 7.0 पर चलता है और इसमें 4,000 एमएएच की बैटरी के साथ 1.3 गीगाहर्ट्ज का क्वैड कोर प्रोसेसर लगा है।
-कंपनी ने कहा कि मध्यम खंड का यह स्मार्टफोन सभी खुदरा दुकानों पर बिक्री के लिए उपलब्ध है।

नई दिल्लीः पिछले महीने एकदम से लगातार बढ़ी तेल की कीमतों ने आम आदमी की जाब पर भारी बोझ डोल दिया, जिसके बाद सरकतार ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में धीरे धीरे कटौती करना शुरु कगी और लगातार 15 दिन तक पेट्रोल डीजल के दाम घटे। लेकिन अब पेट्रोल डीजल की कीमत स्थिर हो गई है और किसी तरह का बदलाव पेट्रोल डीजल के रेट में नहीं किया गया है। लेकिन अगर इस महीने की बात करें तो इस महीने सरकार ने पेट्रोल डीजल की कीमतों में सबसे ज्यादा कटौती की यानी कि इस महीने पेट्रोल डीजल के दीम 2 रुपए तक कम हुए हैं। जो कि काफी ज्यादा हैं। शनिवार को दिल्ली में पेट्रोल 76.35 रुपए, कोलकाता में 79.02 रुपए, मुंबई में 84.18 रुपए और चेन्नई में 79.24 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है। दूसरी ओर डीजल की कीमतों में बीते 4 दिन से ई बदलाव नहीं हुआ है। दिल्ली में डीजल का दाम 67.85 रुपए, कोलकाता में 70.40 रुपए, मुंबई में 72.24 रुपए और चेन्नई में 71.62 रुपए प्रति लीटर है।आपको बता दें कि पेट्रोल और डीजल की कीमतों में 12 जून को बदलाव किया गया था। उस समय पेट्रोल और डीजल के दाम में 15 पैसे और 10 पैसे प्रति लीटर की कमी की गई थी। उसके बाद से कोई बदलाव नहीं हुआ है।
रुपए में मजबूती से घट रहे दाम:-पेट्रोल और डीजल की कीमत 29 मई को रिकार्ड स्तर पर पहुंच गई थी। उस दिन जहां पेट्रोल 78.43 रुपए लीटर पर पहुंच गया था, वहीं डीजल 69.31 रुपए लीटर की रिकॉर्ड ऊंचाई पर चला गया था। उसके बाद से अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल नरम होने और रुपए में मजबूती से कीमतों में 14 बार कटौती की गई है।

 


नई दिल्ली - देश में 38 फीसदी स्मार्टफोन की बिक्री ऑनलाइन प्लेटफार्म के जरिए हो रही है। यानी, हर पांच में से दे फोन की बिक्री ई-कॉमर्स साइट्स से हो रही है। यह जानकारी काउंटरपॉइंट रिसर्च की माकेर्ट मॉनिटर से मिली है। रिपोर्ट के मुताबिक विशेष ऑनलाइन लॉन्च और मजबूत प्रचार के कारण 2018 की पहली तिमाही में देश में बिके कुल स्मार्टफोन में से 38 फीसदी हिस्सा ऑनलाइन प्लेटफार्म्स ने हासिल किया है। ऑनलाइन स्मार्टफोन की बिक्री बढ़ने की बड़ी वजह मोबाइल कंपनियों द्वारा ई-कॉमर्स प्लेटफार्म से साझेदारी कर प्रोडक्ट्स पर भारी छूट देना भी है।
स्मार्टफोन बाजार में फ्लिपकार्ट सबसे आगे
रिपोर्ट के मुताबिक, ऑनलाइन स्मार्टफोन बाजार में 54 फीसदी हिस्सेदारी के साथ फ्लिपकार्ट पहले नंबर पर है, जबकि 30 फीसदी बाजार हिस्सेदारी के साथ अमेजन दूसरे स्थान पर है। तीसरे स्थान पर मी.कॉम है जिसकी बाजार हिस्सेदारी 14 फीसदी है।
श्याओमी स्मार्टफोन की मांग सबसे ज्यादा
ऑनलाइन प्लेटफार्म्स पर बिकनेवाले स्मार्टफोन्स में श्याओमी 57 फीसदी हिस्सेदारी के साथ सबसे आगे है। उसके बाद सैमसंग 14 फीसदी और हुआवेई (ऑनर) की हिस्सेदारी आठ फीसदी है। रिपोर्ट के अनुसार, बाजार में सस्ते और महंगे दोनों प्रकार के स्मार्टफोन की मांग तेजी से बढ़ रही है। सस्ते स्मार्टफोन बाजार में श्याओमी के फोन की मांग सबसे ज्यादा है तो महंगे स्मार्टफोन में वनप्लस की बादशाहत है।
ऑफलाइन स्मार्टफोन की बिक्री में गिरावट
काउंटरपॉइंट के शोध विश्लेषक कर्ण चौहान ने बताया, 2018 की पहली तिमाही में ऑफलाइन की तुलना में ई-कॉमर्स बाजार अधिक तेजी से आगे बढ़ा। इस दौरान साल-दर-साल आधार पर स्मार्टफोन की ऑफलाइन बिक्री में तीन फीसदी की कमी आई। वहीं, ऑनलाइन के जरिए की बिक्री में चार फीसदी की तेजी दर्ज की गई है।


नई दिल्ली - व्यापार के अंतरराष्ट्रीय नियमों की धज्जियां उड़ा रहे अमेरिका को चीन, यूरोपीय देशों के साथ भारत ने कड़ा जवाब दिया है। अमेरिका के स्टील और एल्युमिनियम पर सीमा शुल्क बढ़ाए जाने के जवाब में भारत ने 24 करोड़ डॉलर (1600 करोड़ रुपये) के अमेरिकी उत्पादों पर जवाबी शुल्क लगाने की तैयारी की है।
भारत इसके तहत 30 अमेरिकी उत्पादों को शुल्क के दायरे में लाएगा। इसमें बादाम, सेब, फास्फोरिक एसिड और 800 सीसी से ज्यादा इंजन वाली मोटरसाइकिल शामिल हैं। भारत ने 18 मई को डब्ल्यूटीओ को अमेरिका से आयातित 20 उत्पादों की सूची सौंपी थी, जिन पर वह सीमा शुल्क लगाना चाहता है। संशोधित सूची में भारत ने बादाम और हार्ले डेविडसन जैसी बड़े इंजन वाली बाइकों पर प्रस्तावित शुल्क घटाया है। अमेरिका के एकतरफा फैसलों के खिलाफ भारत के अलावा चीन और यूरोपीय संघ ने भी जवाबी कार्रवाई की है। भारत ने अमेरिकी सरकार से स्टील और एल्युमिनियम पर लगाए गए शुल्क से छूट देने की मांग की थी, लेकिन ट्रंप सरकार ने इसे नहीं माना। भारत ने अमेरिका को इस मामले में डब्ल्यूटीओ में घसीटा है। गौरतलब है कि दो दिन की अमेरिकी यात्रा से लौटे वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु ने शुक्रवार को कहा था कि भारत व्यापारिक विवादों का हल चाहता है और बातचीत के लिए तैयार है। अमेरिकी वाणिज्य प्रतिनिधि मार्क लिंसकॉट जून के आखिरी में भारत यात्रा करने वाले हैं। भारत फिलहाल शून्य या नगण्य शुल्क पर 5.6 अरब डॉलर के 3500 उत्पादों का अमेरिका को निर्यात करता है।
यूरोपीय देशों ने अमेरिकी उत्पादों पर शुल्क लगाया
यूरोपीय संघ के देशों ने गुरुवार को व्हिस्की, ब्लू जींस, मोटरसाइकिल जैसे अमेरिकी आयातित सामानों पर आयात शुल्क लगाने को मंजूरी दी है। यह अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा स्टील पर 25 फीसदी और एल्युमिनियम पर 10 फीसदी अतिरिक्त शुल्क लगाए जाने की प्रतिक्रिया है।
चीन का भी पलटवार, 50 अरब डॉलर के अमेरिकी उत्पादों परशुल्क
बीजिंग। चीन ने भी पलटवार करते हुए 50 अरब डॉलर के अमेरिकी उत्पादों पर 25 प्रतिशत अतिरिक्त शुल्क लगाने की घोषणा की। अमेरिका ने शुक्रवार को ही 50 अरब डॉलर के चीनी उत्पादों पर 25 प्रतिशत आयात शुल्क लगाने का ऐलान किया था। चीन की सरकार ने 50 अरब डॉलर के 659 अमेरिकी उत्पादों पर 25 प्रतिशत अतिरिक्त शुल्क लगाने का निर्णय किया है। इसने कहा कि सरकार ने उन उत्पादों की सूची भी जारी की है जिनपर ये अतिरिक्त शुल्क लगेंगे। चीन के सीमा शुल्क आयोग ने कहा कि 34 अरब डॉलर के 545 अमेरिकी उत्पादों पर अतिरिक्त शुल्क छह जुलाई से प्रभावी होंगे। इनमें कृषि उत्पाद व वाहन आदि शामिल हैं। शेष 114 उत्पादों जिनमें रासायनिक उत्पाद , चिकित्सकीय उपकरण और ऊर्जा उत्पाद शामिल हैं , पर शुल्क लगाने की तिथि की घोषणा बाद में की जाएगी।

नई दिल्ली - जियो के जरिये दूरसंचार उद्योग को हिला देने के बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज दुनिया की नंबर दो ई कॉमर्स कंपनी अलीबाबा की रणनीति अपनाकर ऑनलाइन शॉपिंग बाजार में धमाका करने की तैयारी कर रही है। इसके लिए रिलायंस जियो और रिलायंस रीटेल छोटे शहरों और कस्बों में स्थानीय दुकानदारों से समझौता करने जा रही है, ताकि अलीबाबा के सीईओ जैक मा के ऑनलाइन टू ऑफलाइन बाजार मॉडल को…
नई दिल्ली - पिछले महीने सरकार की ओर से तैयार ड्राफ्ट ‘न्यू पैंसेजर राइट्स चार्टर’ प्रस्ताव जिसमें टिकट के कैंसिल होने की स्थिति में पूरा रिफंड करना होगा, अगर यह लागू हो जाता है तो इसके चलते होनेवाले नुकसान की भरपाई के लिए एयरलाइंस कंपनियां हवाई किराये में कुछ सौ रुपये प्रति टिकट की बढ़ोत्तरी कर सकती है।प्राइवेट एयरलाइन के एक एग्जक्यूटिव ने बताया कि यह प्रस्ताव जिनमें बुकिंग के…
सैमसंग अपने ग्राहकों के लिए नए स्मार्टफोन लाॅन्च कर रही है जो सभी को पसंद आ रहे है। सैमसंग ने अपने फ्लैगशिप का नया वेरियंट पेश किया है। सैमसंग गैलेक्सी एस 9 प्लस अब सनराइज गोल्ड कलर वेरियंट में मिलेगा। इससे पहले कंपनी ने गैलेक्सी एस9 को 128GB स्टोरेज के साथ मार्केट में उतारा था।बता दें कि सैमसंग ने इसी वर्ष में मार्च मेंस सैमसंग गैलेक्सी एस9 व एस9 प्लस…
आजकल टेक्नाॅलोजी के ज़माने में सभी के लिए लाइव टीवी और वीडियो देखना आसान हो गया है। कहीं भी बैठे और किसी भी समय में अपने पसंदीदा सिरियल देख सकते है। लाइव टीवी या वीडियो देखने से लिए Hotstar और Netflix पर सब्सक्रिप्शन लेना पड़ता था। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। देश की टेलीकॉम कंपनियों ने अपने टीवी ऐप के जरिये यूजर्स को फ्री में ऑनलाइन टीवी दिखाने का ऑफर…
Page 1 of 197

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें