मुंबई - अमेरिका में ब्याज दरें बढ़ने से उत्पन्न चिंता के कारण वैश्विक बाजारों में जोरदार बिकवाली दबाव के बीच घरेलू शेयर बाजारों में भी गुरुवार को एक बार फिर गिरावट आ गई। बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स 407 अंक गिरकर 34,006 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी भी 122 अंक गिरकर 10,455 अंक पर बंद हुआ।
बाजार में बिकवाली का जोर
शेयर बाजारों में विदेशी कोषों की बिकवाली का भी जोर रहा और पूंजी का बाह्य प्रवाह होने से कारोबारी धारणा प्रभावित हुई। अमेरिका में वॉल स्ट्रीट में इतिहास की दूसरी बार बड़ी गिरावट दर्ज की गई। डाउ जोंस के बेंचमार्क में दूसरी बड़ी गिरावट दर्ज की गई। अमेरिका में ट्रेजरी बॉन्ड के प्रतिफल में तेजी आने से शेयर बाजारों में गिरावट रही। बीएसई का 30 कंपनियों पर आधारित सूचकांक सेंसेक्स कारोबार की शुरुआत में ही नीचे खुला और कारोबार के दौरान 34,000 अंक से नीचे चला गया। बाद में इसमें कुछ सुधार आया लेकिन कारोबार की समाप्ति पर 1.18 प्रतिशत गिरकर 34,006 अंक पर बंद हुआ। 4 जनवरी के बाद सेंसेक्स का यह सबसे निचला बंद स्तर है। तब यह 33,969.64 अंक पर बंद हुआ था। इससे पहले बुधवार को कारोबार की समाप्ति पर सेंसेक्स 330 अंक सुधरा था। वहीं निफ्टी कारोबार के दौरान 10,398 और 10,480 अंक के बीच घट-बढ़ में रहा।
छोटे शेयरों में तेजी
दिग्गज कंपनियों की तरह मंझोली कंपनियों में बिकवाली देखी गई। लेकिन छोटी कंपनियों में लिवाली का जोर रहा। बीएसई का मिडकैप 0.09 प्रतिशत यानी 14.16 अंक लुढ़ककर 16,634.91 अंक पर रहा। जबकि स्मॉलकैप 0.23 प्रतिशत यानी 41.79 अंक की बढ़त में 18,172.98 अंक पर बंद हुआ।
बैंकिंग शेयरों में सबसे ज्यादा नुकसान
बीएसई के सूचकांक में सबसे अधिक बैंकिंग और वित्त क्षेत्र के शेयरों में हुआ। बैंकिंग में 1.75 फीसदी और वित्त में 1.54 का नुकसान हुआ। जबकि दूरसंचार में 1.15 की गिरावट आई। इसके अलावा पीएसयू में 0.50, सीडीजीएस में 0.22, ऊर्जा में 0.64, एफएमसीजी में 0.41, , इंडस्ट्रियल्स में 0.47, आईटी में 0.77, ऑटो में 0.95, पूंजीगत वस्तुओं में 0.73, तेल एवं गैस में 0.72 और टेक में 0.90 प्रतिशत की गिरावट रही।
विदेशी बाजार भी लुढ़के
यूरोपीय बाजारों में शुरुआती कारोबार में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.47 प्रतिशत और जर्मनी का डैक्स 0.36 फीसदी की गिरावट में रहा। एशियाई बाजारों में चीन का शंघाई कंपोजिट 4.02 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 1.82, हांगकांग का हैंगसेंग 3.10 और जापान का निक्की 2.32 प्रतिशत की गिरावट में बंद हुआ।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें