नई दिल्ली - दूरसंचार विभाग ने राजस्थान में वायरलैस ब्रॉडबैंड सेवा शुरू करने में देरी के लिए तिकोना डिजिटल पर 2.5 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। हालांकि विभाग ने तिकोना के एयरटेल के साथ हुए स्पैक्ट्रम सौदे को मंजूरी दे दी है।
डॉट ने तिकोना पर क्यों लगाया जुर्माना:
दूरसंचार विभाग (डीओटी) ने अपनी विवेकाधीन शक्तियों का प्रयोग करते हुए दूरसंचार विभाग ने उक्त जुर्माना लगाया है जो कि 3जी नेटवर्कों के समान नियमों के अनुसार है। तिकोना लगभग तीन महीनों की देरी के साथ रोलआउट दायित्वों को पूरा करने में सक्षम था।
क्या कहते हैं नियम:
2010 के ब्रॉडबैंड वायरलेस नीलामी नियमों के अनुसार सभी सफल बोलीकर्ताओं को स्पेक्ट्रम आवंटन के प्रभावी दिन से पांच साल के भीतर बीडब्ल्यूए सेवाओं के लिए नेटवर्क सेवा शुरू करने की आवश्यकता होती है। विफल रहने पर दूरसंचार विभाग स्पेक्ट्रम को वापस ले सकता है।
एक आधाकारिक सूत्र ने बताया, “अपने दायित्वों को पूरा करने में देरी होने पर 23 अक्टूबर को तिकोना डिजिटल को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। इस नोटिस में 2.43 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है, जो कि राजस्थान सर्कल के लिए उसकी सफल बोली राशि का 2.5 फीसद था। कंपनी ने 25 अक्टूबर को जुर्माना भर दिया था।”
उन्होंने आगे कहा, “विभाग ने तिकोना के एयरटेल के साथ बीडब्ल्यूए कारोबार को मंजूर कर दिया था।” उन्होंने कहा कि तिकोना को 19 नवंबर, 2010 से पांच साल के भीतर बीडब्ल्यूए स्पेक्ट्रम को लागू करना था, लेकिन वह राजस्थान में ऐसा 11 फरवरी 2016 को कर सका।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें