बीजिंग - चीन की ई कॉमर्स कंपनी अलीबाबा ने ऑनलाइन शॉपिंग के दौरान 24 घंटे में 25.4 अरब डॉलर (1660 अरब रुपये) का सामान बेचकर नया रिकॉर्ड कायम किया है। कंपनी के शनिवार को सालाना सिंगल डे आयोजन के दौरान यह रिकॉर्डतोड़ बिक्री की।
दुनिया के 87 देशों की अर्थव्यवस्था (जीडीपी) इस कमाई से कम है। अलीबाबा ने कहा कि भारी छूट और कैशबैक की आकर्षक पेशकश के साथ 13 घंटों में ही उपभोक्ताओं ने 18 अरब डॉलर (1177 अरब रुपये) का सामान खरीद डाला। यहां तक कि पहले दो मिनट में ही ग्राहक 65 अरब रुपये की बुकिंग कर चुके थे और रात 12 बजे यह आंकड़ा 25.4 अरब डॉलर पर आकर रुका, जो पिछले साल से 40 फीसदी ज्यादा कमाई है। ईमार्केटर रिटेल के अनुसार, यह धरती पर किसी एक दिन में उत्पादों की सबसे ज्यादा बिक्री की रिकॉर्ड है, जो मध्यम वर्ग की बढ़ती खपत संकेत है।
ईमार्केटर रिटेल के अनुसार, दुनिया भर की दिग्गज कंपनियां अलीबाबा की इस महासेल के जरिये ग्राहकों को लुभाती हैं। इस बार 40 फीसदी गैर चीनी कंपनियों ने इस आयोजन में हिस्सा लिया। विशेषज्ञों का कहना है कि धीरे-धीरे सिंगल्स डे की महासेल चीन के बाहर के लोगों को भी आकर्षित करने लगी है।
चीन में अनौपचारिक तौर पर 11 नवंबर यानी 11/11 को सिंगल्स डे के तौर पर मनाया जाता है, जो कुआंरे लोगों को समर्पित दिन है। अलीबाबा ने इसी सिंगल्स डे परंपरा को 2009 से भारी छूट के साथ भुनाना शुरू किया था। अमेरिका में इसी तरह साल में ब्लैक फ्राइडे को कंपनियां भारी खरीदारी की पेशकश करती हैं।
इंटरैक्टिव मिरर सुर्खियों में रहा
आयोजन में सौंदर्य उत्पाद कंपनी लॉरियल का इंटरैक्टिव मिरर सुर्खियों में रहा। यह मिरर बिना शरीर या चेहरे पर किसी मेकअप को लगाए यह दिखाता है कि वह आपकी खूबसूरती में किस तरह चार चांद लगाएगा।
महासेल से पर्यावरण को नुकसान
ग्रीनपीस का कहना है कि महासेल में बिके सामान को तैयार करने, पैकेजिंग और उन्हें इधर-उधर भेजने में करीब दो लाख 58 हजार टन कार्बन डाई ऑक्साइड का उत्सर्जन होगा। इसके लिए करीब 2.6 अरब पेड़ों को काटकर सजावटी सामान तैयार किया जाएगा। संगठन का कहना है कि कंपनी से इसकी भरपाई की जानी चाहिए।
भारत में फ्लिपकार्ट, अमेजन और स्नैपडील में स्पर्धा
भारत में फ्लिपकार्ट, अमेजन और स्नैपडील जैसी ऑनलाइन कंपनियां सालाना बिग बिलियन सेल जैसे आयोजन करती हैं। इस बार सितंबर अक्तूबर में इन कंपनियों ने 15 हजार करोड़ रुपये की बिक्री की थी। इसमें करीब 50 लाख तो स्मार्टफोन ही बिके थे। पेटीएम मॉल जैसे नए खिलाड़ी भी पैर जमाने की कोशिश में हैं।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें