articles

-ओम प्रकाश उनियाल (स्वतंत्र पत्रकार)उत्तराखंड के सरकारी विद्यालयों में शिक्षा का स्तर बहुत ही गिरा हुआ है। प्राथमिक शिक्षा पूरी तरह दम तोड़े हुए है। जो सरकार सत्ता में काबिज होती है वही कागजों पर बेहतरीन शिक्षा के आँकड़े दर्शा कर खानापूर्ति करती है। जबकि, धरातल पर शिक्षा व्यवस्था की स्थिति कुछ और ही है। विद्यालय भवनों की जर्जर हालत, कहीं अध्यापक/अध्यापिकाओं की कमी तो कहीं बच्चों की। किसी विद्यालय…
-डॉ नीलम महेंद्र(Best editorial writing award winner) चुनावों के दौरान चलने वाला सस्पेन्स आम तौर पर परिणाम आने के बाद खत्म हो जाता है लेकिन कर्नाटक के चुनावी नतीजों ने सस्पेन्स की इस स्थिति को और लम्बा खींच दिया है। राज्य में जो नतीजे आए हैं और इसके परिणामस्वरूप जो स्थिति निर्मित हुई है और उससे जो बातें स्पष्ट हुई हैं आइए जरा उस पर गौर करें।1.भाजपा जिसके पास पिछली…
-जावेद अनीस भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पिछले साल अगस्त महीने में जब भोपाल आये थे तो उन्होंने ऐलान किया था कि 2018 में होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा की तरफ से शिवराज सिंह चौहान चेहरा होगें और उनके अलावा किसी दूसरे नाम पर विचार नहीं किया जाएगा. मध्यप्रदेश में इस साल के अंत तक चुनाव होने वाले हैं लेकिन अब लगता है कि इसको लेकर भाजपा ने…
-जावेद अनीस एक बार फिर मई की गर्मियों ने देश के राजनीति में उबाल आया है 2014 में ये 16 मई का दिन था जब देश की जनता ने “अबकी बार मोदी सरकार” के नारे पर मुहर लगा दिया था और अब इसके चार साल बाद 15 मई के दिन भाजपा दक्षिण के राज्य कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है. इस बार भी खेल और खिलाड़ी…
-सुशील दीक्षित 'विचित्र' जब से पार्टी के विरासती मुखिया ने रहस्योदघाट्न किया है कि उनकी पार्टी के सभी कार्यकर्ता शेर के बच्चे हैं तब से जंगल में शेरो और शेरनियों में भारी गृह कलह हो रही है | एक जगह शेर शेरनी को सफाई दे रहा था , ऐसी कोई बात नहीं प्रिये , वह झूठा है | भूल गयी आलू की फैक्ट्री वाली बात तुम्हीं ने तो बताई थी…
--नीरज त्यागी रमेश बचपन मे जब चिराग के जिन्न की कहानियां पढ़ता था तब ऐसा लगता था कि काश ये चिराग कही से मिल जाये तो मजा आ जाये।बचपन मे सपने भी ऐसे ही आते थे जैसे काया कल्प करने वाला जिन्न बस जीवन मे मिलने ही वाला है।पर सपने कहाँ पूरे होते है।रमेश को ये जिन्न मिला जरूर लेकिन एक बोतल के रूप में।अपनी परिश्थिति से लड़ता हुआ रमेश…
राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता फिल्म निर्माता बनेंगे रियलिटी शो का हिस्सामुंबई (हम हिंदुस्तानी)-प्रशंसित और प्रतिष्ठित फिल्म निर्माता और कला निर्देशक ओमंग कुमार, जिन्होंने लगातार 'मैरी कॉम' और 'सरबजीत' जैसी सुपरहिट ब्लॉकबस्टर फिल्में दी हैं, अब एक नई भूमिका में दिखेंगे. एक होस्ट, सेट डिजाइनर, फिल्म निर्देशक और फिल्म निर्माता की भूमिका निभाने के बाद अब वे स्मॉल स्क्रीन पर एक नई भूमिका निभाने के लिए तैयार है. ओमंग जल्द ही सबसे…
-सुरेन्द्र कुमार, हिमाचल प्रदेश देश में इन दिनों जिंदगियों के रूठने का क्रम निरंतर गतिमान है। कहीं पुल कहीं भवन तो कहीं निर्माणाधीन फ्लाईओवर समय से पूर्व ही दम तोड़ रहे हैं। फलस्वरूप बदहाल सुविधाएँ जनमानस की जान पर हर बार भारी पड़ रही है। अभी तक हमने नव निर्मित पुलो को टूटते हुए देखा व सूना था लेकिन आज हमने निर्माणाधीन फ्लाईओवर को टूटते हुए भी देख लिया। वाक्या…
-निर्मल रानीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी में पिछले दिनों एक बड़ा हादसा दरपेश आया। लगभग 1700 मीटर लंबे निर्माणाधीन $ लाईओवर पर बीम चढ़ाने व उसके एलाईनमेंट के दौरान हुए हादसे में 18 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। सूत्रों के अनुसार जिस समय वाराणसी कैंट तथा लहरतारा के मध्य बन रहे इस ऊपरिगामी पुल की बीम अचानक नीचे गिरी उस समय भीड़-भाड़ वाले इस इला$के में…
-डॉ प्रदीप उपाध्याय उनका जो होना था हो चुका है,वे भजन कीर्तन के साथ ता ता थैया करने के चक्कर में अपना खुद का ठौर-ठिकाना भूल गए और अपने शिष्यों का भविष्य दाव पर लगा गए।खैर अब उन्हें अपना नया ठौर-ठिकाना मिल गया है।एक बाबाजी ने संकल्प लिया था कि तिहाड़ जेल में जायेंगे,संकल्प तो पूरा हुआ,तिहाड़ न सही,जेल तो मिल ही गई।दूसरे बड़े-बड़े बाबाओं ने भी अपनी राह पकड़…
Page 10 of 46

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें